जी हां जनाब, खबर पक्‍की है! ये प्‍याज नहीं निकालता आंसू

यूनाइटेड किंगडम: घर का बना खाना किसे पसंद नहीं होता. इसके लिये लोग भोजन तैयार भी करते हैं. इस दौरान सबसे अधिक मुश्किल तब आती है, जब प्याज काटने की बारी आती है. प्याज काटते समय आंखों में होने वाली जलन और आंसू से लोग घबरा जाते हैं और प्याज काटने से कतराते हैं. अब प्याज काटने से निकलने वाले आंसू बीते जमाने की बात होने वाली है. यूनाइटेड किंगडम में मीठा प्याज बिक्री के लिये तैयार है. वेट्रोज़ सुपरमार्केट स्टोर चेन सनिऑन्स (Sunions®) ब्रेंड नाम से यह प्याज बेचेगा. 

 

हल्के स्वाद के कारण इस्तेमाल के कई विकल्प
यह प्याज अमेरिका में उगाई जाती है.  यह एक तरह के मीठी प्याज की किस्म है. यह प्याज संवेदनशील आंखों वाले और बच्चों के साथ खाना बनाने वालों के लिए आदर्श है. वेट्रोज़ के अनुसार, इस प्याज का स्वाद हल्का होता है. ऐसे में इसे खाना पकाने के साथ सलाद के तौर पर भी इस्तेमाल किया जा सकता है.

 

18 जनवरी से बिक्री होगी शुरू
ऑनियन बॉयर  पॉल बिडवेल ने कहा है कि 18 जनवरी से वेट्रोज़ के चुनिंदा स्टोर्स पर Sunions की बिक्री शुरू हो जाएगी. वहीं, इसे Waitrose.com के माध्यम से भी लांच किया जाएगा. उन्होंने कहा कि वे इस बिना आंसू वाले प्याज से उनके ग्राहकों को काफी मदद मिलेगी. 

क्रॉस ब्रीडिंग से बनाया गया है प्याज
इस नये प्याज को आनुवंशिक संशोधन से नहीं बनाया गया है. इसे प्याज की कम तीखी वाली किस्मों के क्रॉस-ब्रीडिंग से तैयार किया गया है. बता दें कि प्याज से आने वाले आंसू को लेकर 2017 में एक अध्ययन किया गया था. इसके जरिये पता चला कि प्याज काटते समय आंखों में आंसू आने का कारण सल्फेनिक एसिड बनना है, जिससे आंखों में जलन होने लगती है. तकनीकी भाषा में कहें तो, प्याज सिन-प्रोपेनेथियल-एस-ऑक्साइड नामक एक रासायनिक अड़चन पैदा करता है, जो आंखों में लैक्रिमल ग्रंथियों को आंसू छोड़ने का कारण बनता है. यह रसायन केवल आंखों में जलन पैदा करता है, इससे कोई स्थायी नुकसान नहीं होता है. वहीं, Sunions अधिक मात्रा में लैक्रिमेटरी-कारक सिंथेज़ जारी नहीं करते हैं. इससे आंखों में जलन नहीं होती है. उत्पाद के वेबसाइट का कहना है कि इस प्याज को उगाने में तीन दशक से अधिक का समय लगा. इसके विकास को लेकर काफी ध्यान दिया गया. वहीं, सावधानीपूर्वक खेती और कड़ी मेहनत भी की गई.