UAE को ओमिक्रॉन की नहीं कोई टेंशन, बॉर्डर खोलकर सबको बुला रहा अपने देश!

अबू धाबी: दुनिया के अधिकांश देश कोरोना वायरस (Coronavirus) के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन (Omicron) के चलते खौफ में हैं. कुछ देशों में सख्त पाबंदियां लागू हो गई हैं और कुछ फिर से लॉकडाउन (Lockdown) जैसे कदम उठाने को मजबूर हैं. वहीं, संयुक्त अरब अमीरात (UAE) एकमात्र ऐसा देश है, जिस पर ओमिक्रॉन का ज्यादा असर नजर नहीं आ रहा. वो पहले की तरह खुशहाल बना हुआ है. खाड़ी के इस देश ने दुनियाभर के सैलानियों के लिए अपने दरवाजे खोल रखे हैं.

टॉप के देशों में शामिल  

बीबीसी की रिपोर्ट के अनुसार, UAE वैक्सीनेशन की अच्छी स्पीड, व्यापक और सस्ती टेस्टिंग सुविधाओं के चलते दुनिया के कई अन्य देशों की तुलना में कोरोना महामारी से बेहतर ढंग से निपट रहा है. यूएई वर्तमान में ब्लूमबर्ग की कोविड रेज़िलिएंस रैंकिंग में टॉप के देशों में शामिल है. इस रैंकिंग में 53 देशों के स्वास्थ्य सुविधा मानकों, कोरोना संक्रमण से होने वाली मौतों और यात्रा को फिर से खोलने जैसे 12 संकेतकों को आधार बनाया गया है. 

ये भी पढ़ें -चीन में अफगानिस्‍तान के राजदूत ने दिया इस्‍तीफा, 6 महीने से तालिबान ने नहीं दी सैलरी

‘दो साल में काफी काम हुआ’

इन्हीं सब के चलते यूरोप में ओमिक्रॉन के फैलने के बावजूद, यूएई संक्रमण को नियंत्रित करने और देश को पर्यटकों के लिए खुला रखने में सफल रहा है. यूएई के सबसे अधिक आबादी वाले शहर दुबई ने भी खुद को एक वैश्विक पर्यटन स्थल से अपने लोगों की हिफाज़त करने वाले शहर में तब्दील कर लिया है. मिर्ज़ाम चॉकलेट कंपनी की मुख्य चॉकलेट अधिकारी कैथी जॉनस्टन 30 साल से दुबई में रह रही हैं. बीबीसी से बात करते हुए उन्होंने कहा, ‘कोरोना से निपटने के लिए यहां काफी कुछ किया गया है. दो साल पहले की तुलना में मुझे ऐसा लगता है कि मैं किसी दूसरे ग्रह पर आ गई हूं और मुझे ये पसंद है. लोग स्थानीय विचारों और परियोजनाओं का समर्थन कर रहे हैं.

एक्सपो में पहुंच रहे सैलानी

दुबई छह महीने तक चलने वाले ‘एक्सपो 2020’ की भी मेजबानी कर रहा है, जो मार्च, 2022 तक चलेगा. इस एक्सपो में दुनियाभर की प्रमुख कंपनियों के स्टॉल लगे हैं. यहां बड़ी संख्या में सैलानी पहुंच रहे हैं, इसकी वजह ये है कि सरकार ने कोरोना से निपटने को लेकर जो रणनीति बनाई है, उस पर सख्ती से पालन किया गया है. वैक्सीनेशन की स्पीड ज्यादा होने से संक्रमण का खतरा अपने आप कम हो गया है. महामारी के बावजूद यहां रेस्टोरेंट खुल रहे हैं. कैथी जॉनस्टन ने बताया कि पिछले दो सालों में कई सारे रेस्टोरेंट खुले हैं. महामारी ने अप्रत्याशित रूप से स्थानीय सामग्री और कुशल रसोइयों को अपनी प्रतिभा दिखाने का अवसर दिया है.

UAE जाने से पहले ये करें

ओमिक्रॉन वेरिएंट के कारण यात्रा प्रतिबंध तेजी से बदल रहे हैं, इसलिए लेटेस्ट घोषणाओं और नियमों की जानकारी के लिए ‘यूएई ट्रैवल टू दुबई’ वेबसाइट ज़रूर देखें. फिलहाल दुबई उन सैलानियों के लिए खुला है, जिन्होंने विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा मान्यता प्राप्त कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) ले रखी है. हालांकि, पर्यटकों को कोरोना टेस्ट से भी गुजरना पड़ता है. सरकार ने सलाह दी है कि यात्रियों को यूएई का आधिकारिक ऐप ‘अल हसन’ डाउनलोड करना चाहिए, जो कोविड टेस्ट के परिणाम और टीकाकरण की स्थिति को दर्शाने के लिए रंग आधारित कोड सिस्टम का उपयोग करता है.