किम जोंग उन ने अमेरिका पर साधा निशाना, Korean Peninsula में तनाव के लिए ठहराया जिम्मेदार

Kim Jong Blames US: उत्तर कोरिया (North Korea) के तानाशाह किम जोंग उन (Kim Jong Un) अक्सर अपने बयानों को लेकर चर्चा में रहते हैं. अब किम जोंग ने कोरियाई उपद्वीप (Korean Peninsula) में तनाव के लिए अमेरिका (United States) को जिम्मेदार ठहराया है. मंगलवार को उत्तर कोरिया की स्टेट मीडिया की रिपोर्ट में उनका ये बयान सामने आया है. यहां एक रक्षा प्रदर्शनी (defence exhibition) के दौरान अपने संबोधन में किम जोंग ने अमेरिका पर ये आरोप लगाया है.

कोरियाई सेंट्रल न्यूज एजेंसी (KCNA) के मुताबिक अपने भाषण की शुरुआत में ही किम जोंग ने कहा, “कोरियाई उपद्वीप में तनाव की जड़ अमेरिका है.” यहां ‘Self-Defence 2021’ रक्षा प्रदर्शनी में उन्होंने ये बात कही. बता दें कि, अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन (Joe Biden) लंबे समय से ये बात कहते आ रहे हैं कि वो उत्तर कोरिया के खिलाफ आक्रामक रवैया नहीं रखते हैं.

किम जोंग ने बाइडेन के दावों को नकारा 

हालांकि किम जोंग ने बाइडेन की इन बातों को सिरे से नकारते हुए कहा, “मैं ये जानने के लिए बेताब हूं कि क्या दुनिया में ऐसे लोग या देश मौजूद हैं जो इनकी बातों पर यकीन रखते हैं.” KCNA की रिपोर्ट के मुताबिक किम जोंग ने साथ ही कहा, “अगर आप उनकी हरकतों को देखेंगे तो उसका उनके बयानों से कोई संबंध नहीं है. ये मानने की कोई वजह मौजूद नहीं है कि अमेरिका का रवैया उत्तर कोरिया के लिए आक्रामक नहीं है.” 

किम जोंग ने दक्षिण कोरिया पर भी लगाया आरोप 

इसके साथ ही किम जोंग ने दक्षिण कोरिया पर भी धोखा देने और दोहरी नीति अपनाने का आरोप लगाया है. किम जोंग ने कहा, “बिना किसी रोक-टोक के दक्षिण कोरिया पिछले कुछ समय से यहां अपनी सेना की ताकत को बढ़ाने के लिए खतरनाक हथकंडे अपना रहा है. जिसके चलते कोरियाई उपद्वीप में अशांति और सैन्य अस्थिरता का माहौल पनप रहा है.”

बता दें कि यहां के प्योंगयांग एरिया में कई अंतर्राष्ट्रीय प्रतिबंध लगे हुए हैं. उत्तर कोरिया के प्रतिबंधित परमाणु हथियारों और बैलिस्टिक मिसाइल कार्यक्रमों के चलते ये प्रतिबंध लगाए गए हैं. साथ ही दक्षिण कोरिया के साथ यहां उत्तर कोरिया का लंबे समय से विवाद चल रहा है. 

यह भी पढ़ें 

Nobel Prize In Economics: अमेरिका के डेविड कार्ड, जोशुआ डी एंग्रिस्ट और गुइडो इम्बेन्स को मिला अर्थशास्त्र का नोबेल पुरस्कार

Afghanistan में आतंकी हमले का खतरा बरकरार, US-UK ने नागरिकों को दी चेतावनी