USA के Texas में Corona से पहले बच्चे की मौत, मां से हुआ था 4 वर्षीय बच्ची को संक्रमण

टेक्सास, यूएसए: कोरोना महामारी (Coronavirus) की शुरुआत होने के बाद से 4 साल की बच्ची Kali Cook इस बीमारी से पीड़ित होने वाली टेक्सास की सबसे कम उम्र की रोगी बन गई. कोरोना के लक्षण दिखने के कुछ घंटों के भीतर ही बच्ची की नींद में ही मौत हो गई.

4 वर्षीय बच्ची की कोरोना से मौत

इंडीपेंडेंट वेबसाइट के मुताबिक Kali Cook की मां Karra Harwood कोरोना वैक्सीनेशन के खिलाफ थी. उसने खुद को कोरोना का टीका नहीं लगवाया. जिसके चलते वह और परिवार के दूसरे लोग कोरोना (Coronavirus) की चपेट में आ गए. उनके बीमार पड़ने के बाद 4 वर्षीय बच्ची भी कोरोना संक्रमण का शिकार हो गई और कुछ ही घंटों में वह इस दुनिया से चल बसी. 

पिछले 1 हफ्ते में 24 बच्चों की मौत

Kali Cook की मौत की खबर ऐसे वक्त में आई है. जब हाल की रिपोर्ट में दावा किया गया है कि अमेरिकी (USA) बच्चों में डेल्टा वेरिएंट के कई मामले देखे गए हैं. पिछले महीने, गैल्वेस्टन काउंटी में 12 से कम उम्र के 1382 बच्चों में कोरोना के मामले दर्ज किए गए थे. टेक्सास ने पिछले सप्ताह तक 10 वर्ष से कम उम्र के 24 बच्चों की मौत हो चुकी थी. 

Kali Cook अपने माता-पिता और 4 भाई-बहनों के साथ बैक्लिफ में रहता थी. कोरोना से पीड़ित होने के बाद वे सब क्वारंटीन थे. काली की मां कहती हैं, ‘सोमवार को मुझे कोरोना वायरस (Coronavirus) होने की पुष्टि हुई. उसके बाद मैंने तुरंत अपने आपको घर के एक कमरे में आइसोलेट कर लिया. मैंने अपने बच्चों को खुद से दूर रखने की कोशिश की. मैं नहीं चाहती थी कि उन्हें भी कोरोना हो जाए. 

नींद में ही गुजर गई बच्ची

मां के अनुसार, रात में बेटी काली को अचानक फीवर आ गया. उन्होंने उसका बुखार कंट्रोल रखने के लिए दवाई दी. सुबह 7 बजे जब उसे उठाने की कोशिश की गई तो वह हिली नहीं. जब उसे झिंझोड़ा गया तो पता चला कि उसने नींद में ही दम तोड़ दिया है. बेटी के शरीर में कोरोना (Coronavirus) का कोई भी लक्षण नहीं था. बाद में पुष्टि हुई कि उसकी मौत कोरोना संक्रमण की वजह से हुई. 

काली की मौत के बाद स्वास्थ्य विभाग ने उसके स्कूल में पढ़ने वाले दूसरे बच्चों और टीचर्स की जांच की लेकिन उनमें कोई भी संक्रमित नहीं निकला. इसके बाद बच्ची के शव की ऑटोप्सी की गई, जिससे मौत के दूसरे कारण भी खोजे जा सकें. 

ये भी पढ़ें- Mizoram में तेजी से बढ़ रहे Coronavirus के मामले, 16.39 प्रतिशत पर पहुंची संक्रमण दर

5 महीने का बच्चा भी संक्रमित

बेटी की मौत से दुखी हारवुड का दुख तब और बढ़ गया. जब उन्हें पता चला कि उनका पांच महीने का बच्चा भी कोरोना वायरस (Coronavirus) से संक्रमित हो गया है. अपने बच्चे को बचाने के लिए वह उसे हर रात अस्पताल ले जाती. वह नहीं चाहती कि उसका दूसरा बच्चा भी उसे छोड़कर चला जाए. उन्होंने बेटी के शव का अंतिम संस्कार करने के लिए एक GoFundMe पेज बनाया है. जिससे वह कोष इकट्ठा करके उसका संस्कार कर सके. 

LIVE TV