तालिबान के कब्जे के बाद पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइन्स के विमान ने काबुल के लिए भरी पहली उड़ान

Afghanistan News: अफगानिस्तान पर पिछले महीने तालिबान के कब्जे के बाद पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइन्स (PIA) के विमान ने सोमवार को काबुल के लिए पहली उड़ान भरी. एयरलाइन्स के प्रवक्ता अब्दुल्लाह एच. खान ने इस बात की जानकारी दी है. उन्होंने बताया कि बोईंग 777 फ्लाइट नंबर पीके 6429 ने पाकिस्तान के इस्लामाबाद से उड़ान भरी. वर्ल्ड बैंक (World Bank) के इस कॉमर्शियल चार्टर्ड फ्लाइट (Commercial chartered flight) में बैंक के अधिकारी और पत्रकार शामिल थे.

बाद में विमान इस्लामाबाद लौट आया. काबुल से विदेशी सैनिकों की वापसी और 31 अगस्त तक अफगानिस्तान से लोगों की बड़ी संख्या में इवैक्यूएशन के बाद पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइन्स का यह पहला विमान था जिसने काबुल में लैंड किया. अब्दुल्ला एच. खान ने रॉयटर्स को बताया- यह स्पेशल चार्टर्ड कॉमर्शियल फ्लाइट थी. उन्होंने कहा कि “हमने अन्य व्यक्तियों की भी व्यवस्था की, जो अफगानिस्तान छोड़ना चाहते थे क्योंकि हमारे पास विमान में जगह थी.”

उन्होंने आगे कहा कि यह कामर्शियल फ्लाइट थी, जो नियमित हवाई अड्डे के बुनियादी ढांचे के माध्यम से संचालित होती थी, जिसे बहाल कर दिया गया था. पीआईए चीफ ऑपरेटिंग ऑफिसर अरशद मलिक ने एक बयान में कहा- “यह ऑपरेशन पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइन्स और पूरी दुनिया के लिए बेहद महत्वपूर्ण हैं.” उन्होंने कहा कि हम यह उम्मीद करते हैं कि पूरी तरह से ऑपरेशन शुरू करने में कामयाब होंगे.

हवाई अड्डे के ग्राउंड स्टाफ के अनुसार, इस्लामाबाद के लिए उड़ान में करीब 70 लोग थे, जिनमें ज्यादातर अफगानी थे, जो विश्व बैंक जैसे अंतरराष्ट्रीय संगठनों के कर्मचारियों के रिश्तेदार थे. एक 35 वर्षीय महिला, जिसे वर्ल्ड बैंक ने वहां से निकाल, उसने पहचान गुप्त रखते हुए कहा- “मुझे निकाला जा रहा है. मेरा अंतिम गंतव्य ताजिकिस्तान है,.” उसने आगे कहा- “मैं यहां तभी वापस आऊंगी जब स्थिति महिलाओं को काम करने और स्वतंत्र रूप से आगे बढ़ने की अनुमति देगी.”

ये भी पढ़ें:

पैसे नहीं चुकाने पर कंगाल पाकिस्तान को ‘दोस्त’ मलेशिया ने दिया झटका, विमान जब्त कर यात्रियों को उतारा

Taliban News: क्या तालिबान की आपसी लड़ाई में अफगानिस्तान के डिप्टी PM की हो गई मौत? जानें क्या है सच्चाई