चुनावी कैंडिडेडेट्स की चाहिए जानकारी या जुड़वाना है वोटर लिस्ट में नाम, फोन में रखें ये 3 ऐप

Election 2022: यूपी (UP Election 2022), पंजाब (Punjab Election 2022) समेत 5 राज्यों के लिए चुनावी बिगुल बज चुका है. कोरोना (Corona) के खतरे के बीच हो रहे इन चुनावों (Election) के लिए निर्वाचन आयोग ने इस बार डिजिटलाइजेशन पर ज्यादा फोकस किया है. इसे देखते हुए ही पिछले दिनों चुनाव की तारीखों का ऐलान करते वक्त निर्वाचन आयोग ने कुछ ऐप (Election App) की भी घोषणा की थी. इनके काम के बारे में भी बताया गया था. कई मायनों में ये ऐप वोटर्स (Voters) के लिए काफी मददगार साबित होंगे. आइए आपको बताते हैं कौन सा ऐप आपके किस काम आएगा.

1. सुविधा कैंडिडेट ऐप (Suvidha Candidate App)

यह ऐप आम लोगों के साथ-साथ कैंडिडेट्स (Candidates) के लिए भी महत्वपूर्ण होगा. इससे कैंडिडेट जहां नामांकन (Nomination) भर सकेंगे. वहीं आम आदमी इस ऐप के जरिए अपना नाम वोटर लिस्ट (Voter list) में दर्ज कराने के लिए अप्लाई कर सकेगा. उम्मीदवारों को यहीं से अपना ऐफिडेविट, फीस और अन्य जानकारियां शेयर करने की सुविधा मिलेगी. यही नहीं, राजनीतिक पार्टियों को किसी भी कार्यक्रम की अनुमति लेने के लिए किसी सरकारी ऑफिस आने की जरूरत नहीं होगी. वे इस ऐप से ही परमीशन के लिए अप्लाई कर सकते हैं.

ये भी पढ़ें : Instagram New Feature: अब इंस्टाग्राम पर देख सकेंगे उनके भी ज्यादा पोस्ट जिन्हें आप फॉलो नहीं करते, जल्द आएगा नया फीचर

2. नो योर कैंडिडेट ऐप (know your candidate)

इस ऐप पर आपके कैंडिडेट (Candidates) की हर जानकारी होगी. अभी तक आप वेबसाइट पर जाकर इसे देख सकते थे. कैंडिडेट्स को इस ऐप पर अपनी विस्तृत जानकारी देनी होगी. उनके पास कितनी संपत्ति है, कितने केस दर्ज हैं और वह कितने एजुकेटेड हैं.

ये भी पढ़ें : LCD Typing Pad: 200 रुपये में घर लाएं खास फीचर वाला ये LCD राइटिंग पैड, ड्रॉइंग से लेकर नोट्स बनाने तक आएगा काम

3. सी-विजिल ऐप (C-vigil)

इस ऐप (App) को लाने का मकसद चुनावों में होने वाली गड़बड़ियों को रोकना है. इस ऐप की मदद से वोटर चुनावी आचार संहिता के उल्लंघन की जानकारी दे सकते हैं. ऐप पर शिकायत करने के लिए यूजर्स को स्मार्टफोन के कैमरे और GPS एक्सेस की जरूरत होती है.