ऐसी भी पुलिसः खाद के लिए लाइन में लगे किसानों को डंडे नहीं बांटे समोसे

अतुल अग्रवाल/सागरः मध्य प्रदेश में इन दिनों खाद की कमी देखी जा रही है, प्रदेश के कई जिलों में खाद पाने के लिए किसानों की लंबी-लंबी कतारे लगी हुई है. कई जगहों पर खाद की कमी के चलते किसान आक्रोशित भी हो जाते हैं ऐसे में पुलिस ने सख्ती दिखाते हुए लाठीचार्ज भी कर देती है, सागर जिले में भी खाद की कमी देखी जा रही है, ऐसे में किसान खाद पाने के लिए लाइनों में लगे हुए हैं, लेकिन यहां पुलिस का एक अलग ही रंग देखने को मिला जिसकी हर तरफ तारीफ हो रही है. 

किसानों को बांटे समोसे 
दरअसल, खाद के लिए किसानों को पुलिस के डंडे खाते हुए तो सब ने देखा है, लेकिन खाद के लिए लाइन में खड़े किसानों को पुलिस द्वारा समोसे खिलाते हुए बहुत कम देखा होगा. कुछ ऐसा ही नजारा देखने को मिला सागर जिले के जैसीनगर में जहां पुलिस ने किसानों में समोसे बांटे. 

सागर जिले के जैसीनगर में खाद वितरण केंद्र पर ग्रामीण अंचलों से बड़ी संख्या में किसान सुबह से ही खाद लेने पहुंच रहे हैं, खाद मिलने में देरी के कारण किसानों को दोपहर हो गई. लेकिन खाद के चक्कर में किसान भूखे प्यासे ही लाइन में खड़े थे. इस दौरान खाद वितरण केंद्र की व्यवस्थाएं जैसीनगर के थाना प्रभारी महेंद्र सिंह भदोरिया संभाले हुए थे. जब उन्होंने किसानों को भूखे प्यासे धूप में लाइन में खड़ा देखा तो उन्होंने किसानों के लिए चाय नाश्ते की व्यवस्था कराई. 

थाना प्रभारी ने खुद बांटे समोसे 
थाना प्रभारी महेंद्र सिंह भदोरिया खुद स्वयं अपने हाथों से कटोरी में समोसा रख किसानों को वितरित किए और सभी किसानों को समझाइश दी कि धैर्य रखें खाद की व्यवस्था कराई जा रही है, वही पुलिस का यह मानवीय चेहरा देख वहा मौजूद किसानों ने जैसीनगर थाना प्रभारी और स्टाफ की काफी सराहना की है. 

बता दें कि थाना प्रभारी के इस कदम की इसलिए भी सराहना हो रही है कि क्योंकि कई जगहों पर किसानों के साथ पुलिस द्वारा मारपीट की खबरे सामने आई है, ऐसे में पुलिस का यह काम इसलिए भी सराहनीय माना जा रहा है कि मुश्किल समय में भी धेर्य से काम किया जाए तो काम आसानी से हो जाता है. 

ये भी पढ़ेंः एमपी को मिली एक और बड़ी सौगात, इस जिले में बनेगा दूसरा सबसे बड़ा सोलर पार्क, जानिए खासियत

WATCH LIVE TV