कोटा, बारां, करौली और गंगानगर में पंचायत चुनाव को लेकर कांग्रेस एक्टिव, जल्द फाइनल होंगे नाम

Jaipur: चार जिलों में होने वाले पंचायत चुनाव को लेकर आज PCC अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने पार्टी दफ्तर में प्रभारी मंत्री और PCC के प्रभारी पदाधिकारियों के साथ बैठक की. कोटा, बारां, करौली और गंगानगर के जिला प्रभारी बैठक में मौजूद रहे. मंत्री टीकाराम जूली और अशोक चांदना ने भी बैठक में हिस्सा लिया. मंत्री BD कल्ला और लालचंद कटारिया व्यस्त कार्यक्रम के चलते बैठक में नहीं आ पाए. 

बैठक के बाद प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा (Govind Singh Dotasra) ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि चारों जिलों के लिए पार्टी ने कोर्डिनेटर बनाए हैं. कोर्डिनेटर 3 दिनों में फीडबैक देंगे. सभी के सहयोग से सुझाव से नामों को फाइनल किया जाएगा. पहले के चुनाव में भी जनता का आशीर्वाद मिला है उम्मीद है चारों जिलों में कांग्रेस पंचायत चुनाव (Panchayat Election) जीतेगी. दिल्ली में सोनिया गांधी सहित पार्टी के वरिष्ठ नेताओं से मुलाकात हुई है. सरकार के एक और संगठन के कामकाज को लेकर फीडबैक दिया है. 

यह भी पढ़ें – सूचना देने में लापरवाही, चार अफसर तनख्वाह से चुकाएंगे जुर्माना

सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) ने एकजुटता का संदेश दिया है. जल्द ही मोदी सरकार की नीतियों और महंगाई के खिलाफ दिल्ली में रैली होगी. संगठन के विस्तार को लेकर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि जिला अध्यक्षों के नामों को लेकर मंथन हो गया है. 2 फेज में सूची जल्द जारी की जाएगी. स्कूलों में बढ़ते कोरोना के प्रकोप को लेकर PCC अध्यक्ष ने कहा इसका फैसला मंत्री BD कल्ला और हेल्थ मिनिस्टर को करना है. भाजपा नेता वसुंधरा राजे की यात्रा पर उन्होंने कहा नेताओं की यात्रा धार्मिक नहीं राजनीति होती है. भाजपा का झगड़ा सबके सामने हैं भाजपा के सारे नेता ट्विटर पर CM बने हुए हैं. राजस्थान के 25 सांसदों ने राजस्थान के लिए कुछ भी नहीं किया है. मोदी के कार्यकाल में जो घोटाले हुए हैं. उसकी जांच होगी तो सच सबके सामने आएगा. PM ने किसान बिल पर माफी मांगी लेकिन एक्शन नहीं लिया है. 

सलाहकारों के मामले पर भाजपा नेता राजेंद्र राठौड़ के बयान पर उन्होंने कहा राजेन्द्र राठौड़ (Rajendra Rathore) खामख्वाह के नेता है. उनके पास कोई पद नहीं है बिना वजह के बयान बाजी करते रहते हैं. मैंने उन्हें कई बार सलाह दी है कि अब गुलाब चंद कटारिया की जगह नेता प्रतिपक्ष की जगह लेनी चाहिए ताकि वो बयान दे सके. सलाहकार के मसले पर सरकार ही जवाब देगी. सरकार ने कोई फैसला किया है. सोच समझकर किया है. PCC अध्यक्ष ने कहा कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से चर्चा कर प्रदेश में sop के मुताबिक प्रदेश दफ्तर में मंत्रियों की जनसुनवाई कार्यक्रम को शुरू किया जाएगा.