बिहार: फर्जी तरीके से TTE बन कर रहा था पैसे की उगाही, RPF ने धर दबोचा

बिहार: लखीसराय (Lakhisarai) से RPF की टीम ने फर्जी टीटीई (TTE) गिरोह के एक शख्स को गिरफ्तार किया है. किऊल-जमालपुर रेलखंड (Kiul-Jamalpur Railway Line) से आने वाली ट्रेन संख्या 12254 अंग एक्सप्रेस (Anga Express) से आरपीएफ ने इस फर्जी टीटीई (Fake TTE) को धर दबोचा. आरपीएफ इंस्पेक्टर अरविंद कुमार सिंह ने बताया कि काफी दिनों से मिल रही सूचना के बाद पुलिस की टीम लगातार इस गिरोह की तलाश कर रही थी. आरपीएफ ने इस गिरोह से जुड़े सौरभ सिंह (Sourabh Singh) को गिरफ्तार किया है. हालांकि, अभी भी गिरोह के तीन लोगों की रेलवे पुलिस (Railway Police) तलाश कर रही है. गिरफ्तार व्यक्ति के पास से काला कोट, फर्जी आईडी कार्ड और रसीद बुक बरामद हुआ है.

फर्जी तरीके से टीटीई बनकर यात्रियों से की वसूली 
दरअसल आरपीएफ किउल को लगातार सूचना मिल रही थी कि लंबी दूरी की चलने वाली ट्रेनों में फर्जी तरीके से टीटीई बनकर पैसे की उगाही हो रही है. सूचना के बाद अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए कई टीम बनाई गई. ACM भागलपुर बिप्रेश कुमार चौधरी अपनी टीम के साथ ट्रेन में तलाशी ले रहे थे. वहीं, CIB दानापुर के प्रदीप कुमार वर्णवाल भी अपनी टीम के साथ इस गिरोह की तलाश कर रहे थे. इसके साथ ही, आरपीएफ (RPF) भी अपनी टीम के साथ अंग एक्सप्रेस में अपराधियों की तलाश कर रही थी. 

ये भी पढ़ें- Indian Railway: बिना टिकट यात्रा करने वालों से 23 दिन में वसूला गया 13 करोड़ रुपए जुर्माना

रंगेहाथ पकड़ा गया अपराधी 
इस बीच अंग एक्सप्रेस में आरपीएफ (RPF) ने जब फर्जी टीटीई से पूछताछ की तो वह शक के घेरे में आ गया. आरपीएफ ने शिकायत के दौरान मिली फोटो से सौरभ सिंह का मिलान किया और फिर उसे रंगेहाथ पकड़ा. गिरफ्तारी के बाद आरपीएफ फर्जी टीटीई सौरभ सिंह को किऊल आरपीएफ पोस्ट ले गई. फर्जी टीटीई के पास से फर्जी रसीद और आई कार्ड के साथ काला कोर्ट भी बरामद हुआ.  ACM भागलपुर, CIB दानापुर और RPF के अधिकारियों की टीम भी भागलपुर से किऊल आरपीएफ पोस्ट पहुंची, जहां उससे पूछताछ की गई. 

गिरोह के बाकी सदस्यों की तलाश
आरपीएफ इंस्पेक्टर अरविंद कुमार सिंह (Arvind Kumar Singh) ने बताया कि फर्जी टीटी को अंग एक्सप्रेस में अभयपुर में पकड़ा गया. जिसके पास से एक फर्जी आई कार्ड, टिकट रसीद बुक प्राप्त किया. अरविंद कुमार सिंह के मुताबिक, फर्जी टीटी बेगूसराय (Begusarai) के रतनपुर के वार्ड नंबर- 20 का रहने वाला है. सौरभ सिंह के पिता का नाम शंभु सिंह है. पुलिस के मुताबिक इस गिरोह में कुल चार लोग शामिल हैं. लेकिन गुरुवार को सौरभ सिंह अकेले ही आया था. गिरफ्तार आरोपी ने अपने बाकी साथियों के बारे में जानकारी दी है, जिसके आधार पर आगे की कार्रवाई की जा रही है.

(इनपुट-राजकिशोर)