संजय झा का ऐलान, कहा-हर खेत सिंचाई का पानी पहुंचाने के लिए 30 हजार योजनाओं पर होगा काम

Patna: बिहार में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के ‘समदर्शी नेतृत्व और समावेशी विकास के बेमिसाल 15 साल’ पूरे होने के अवसर पर जदयू की ओर से राज्य के सभी जिलों में विशेष समारोह का आयोजन किया गया. इसी क्रम में सुपौल में आयोजित कार्यक्रम में जल संसाधन तथा सूचना एवं प्रसारण मंत्री संजय कुमार झा (Sanjay Kumar Jha) भी शामिल हुए. 

‘नीतीश कुमार ने बदली बिहार की पहचान’
उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) ने सुशासन के 15 साल में अपने दृढ़ निश्चय और कुशल नेतृत्व से बिहार की पहचान बदल दी है. नीतीश कुमार ने बिहार के लोगों को देश-दुनिया में अपमानित होने और पहचान छिपाने से आजादी दिला दी है.

उन्होंने कहा कि नीतीश सरकार की ‘न्याय के साथ विकास’ की योजनाओं से सभी वर्गों, तबकों और इलाकों के लोगों का जीवन आसान हुआ है.

ये भी पढ़ें-तेजस्वी का नीतीश पर आरोप, पूछा- ‘बिहार में 30 हजार करोड़ के 76 घोटाले क्यों?’

संजय झा ने कहा कि सुशासन के 15 साल में बिहार में सड़क, बिजली, पानी की उपलब्धता और कानून का शासन जैसी बुनियादी जरूरतें पूरी हो गई हैं. दरभंगा में एयरपोर्ट बनने और उसकी शानदार सफलता के कारण पूरे उत्तर बिहार में लोगों को देश के किसी भी हिस्से से आने-जाने में सुविधा हो रही है.

‘उद्योग लगाने पर सरकार का फोकस’
मंत्री ने कहा कि अब सरकार का विशेष ध्यान राज्य में उद्योग लगाने पर है. उन्होंने कहा कि ‘सात निश्चय 2 के तहत ‘हर खेत तक सिंचाई का पानी’ पहुंचाने के लिए पूरे राज्य में तकनीकी सर्वे का काम पूरा हो गया है. इस दौरान करीब 30 हजार योजनाओं का चयन किया गया है, जिन पर अगले पांच साल में काम होगा.

महिलाओं को मिला नेतृत्व का अवसर
संजय झा ने कहा कि पंचायती राज संस्थाओं और नगर निकायों में महिलाओं को 50% आरक्षण देने वाला बिहार पहला राज्य है. पिछले तीन चुनावों में लाखों महिलाओं को नेतृत्व का अवसर मिला, जिससे गांव-समाज में उनका सम्मान बढ़ा, उनकी आवाज बुलंद हुई.

मंत्री ने कहा कि सरकारी नौकरियों में मिले आरक्षण का सुपरिणाम है कि बिहार पुलिस में महिला कर्मियों की भागीदारी देश में सबसे अधिक है.

ये भी पढ़ें-भाजपा ने कहा, भारी पड़ रही है शराबबंदी, की कानून वापसी की मांग

‘कोरोना का टीका जरूर लें’
संजय झा ने कहा कि कोरोना से सुरक्षा के लिए टीका लेना जरूरी है. राज्य में साढ़े सात करोड़ से अधिक टीके दिये जा चुके हैं. उन्होंने कहा कि जिन लोगों ने अब तक टीका नहीं लिया है, वो अपने परिवार और समाज की सुरक्षा के लिए कोरोना टीका जरूर ले लें.