दल का बड़े से बड़ा नेता भी शराब पीते पकड़ा जाएगा तो तत्काल होगा बर्खास्त- राजद

Patna: राजद (RJD) के प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह (Jagdanand Singh) ने शराबबंदी पर बड़ा बयान दिया है. उन्होंने कहा कि हमारे संविधान में है कि कोई शराब पीने वाला व्यक्ति हमारा सदस्य नहीं बन सकता. मैं सार्वजनिक तौर पर वादा करता हूं कि मेरे दल (Party) का कोई बड़े से बड़ा नेता भी शराब पीते पकड़ा जाएगा तो मैं उसे तत्काल दल से बर्खास्त कर दूंगा. इसमें कोई देरी नहीं होगी.  

शराबबंदी अभियान के तहत लोगों के घरों में घुसना अन्याय 
जगदानंद सिंह ने कहा कि बिहार सरकार (Bihar Government) के शराबबंदी अभियान के तहत घर-घर में घुसा जा रहा है, यह अन्याय है. CM नीतीश कुमार (Nitish Kumar) ये क्या कर रहें हैं? पुलिस (Police) शराब माफियाओं पर कार्रवाई के बदले लोगों के घरों मे घुस रही है. शराब कहां से चली और कहां जाना है इस कड़ी से पुलिस माफियाओं तक पहुंचे. उल्टा आम लोगों को परेशान किया जा रहा है.  

दुल्हन के कमरे तक पहुंच रही पुलिस 
प्रदेश अध्यक्ष (State President) ने आगे कहा कि जिस घर में शादी की प्रक्रिया शुरु हो जाती है, वहां दुल्हन के कमरे में कोई नहीं जाता है. यहां तक की घरवाले भी नहीं जाते हैं और पुलिस वहां तक भी पहुंच रही है. यदि आप सड़कों पर नाचने वाले को शराब पीया हुआ समझते हो तो पकड़ लो. लेकिन बाहर से आने वाले डॉक्टर्स, इंजीनियर्स जिन्हें यहां के बारे में नासमझी है, उन्हें होटल में जाकर पकड़ लिया गया.

ये भी पढ़ें- बिहार में शराबियों की खैर नहीं, पटना और दरभंगा में शराब पार्टी करते 18 गिरफ्तार 

माफियाओं का पोषण कर रही सरकार 
जगदानंद सिंह ने नीतीश (Nitish Kumar) पर हमला बोलते हुए कहा कि जिस दिन आप माफियाओं को पकड़ने लग जाओगे उस दिन आप स्वयं पकड़ में आ जाओगे, यही सबसे बड़ा खतरा है. क्योंकि माफियाओं का पोषण आप ही कर रहे हो. इसका सबसे बड़ा सबूत है कि जब नालंदा (Nalanda) जिला का जदयू (JDU) का नेता पकड़ा गया तो उस समय केके पाठक (KK Pathak) की बदली कर दी गई. 

जदयू-भाजपा के संरक्षण में चल रहा है अपराध 
जगदानंद ने कहा कि जब केके पाठक पूरी ताकत के साथ शराबबंदी लागू कर रहे थे तो उनके सामने न जदयू (JDU) थी, न भाजपा (BJP) न राजद (RJD). उनके सामने सिर्फ शराब के विक्रेता थे. लेकिन जब पकड़ में जदयू का आदमी आया तो उनका ट्रांसफर कर दिया गया. आज की तकनीक ऐसी हैं जिनके माध्यम से कोई भी अपराधी (Criminal) बच नहीं सकता है. लेकिन हर अपराधी अपराध (Crime) कर रहा है. ये सबकुछ नीतीश कुमार-सुशील मोदी (Nitish Kumar-Sushil Modi), यानी जदयू-भाजपा (JDU-BJP) के संरक्षण में चल रहा है. 

(इनपुट-नवजीत कुमार)