अयोध्या फायरिंग में आरोपियों की हुई गिरफ्तारी, गोली लगने से 1 युवक की हुई थी मौत

अयोध्या:  रामनगरी अयोध्या में चौकी देवकाली गोरखाना नील गोदाम के पास दुर्गा पूजा पंडाल में बीती रात फायरिंग हुई थी, जिसमें एक युवक की मौके पर ही हुई मौत हो गई थी. इसी के साथ 2 सगी बहनें भी गोली लगने से घायल हो गई थीं. फिलहाल, दोनों घायल बहनों का लखनऊ के अस्पताल में इलाज चल रहा है. इसी के साथ इस वारदात में अयोध्या पुलिस ने बड़ा खुलासा किया है. पुलिस की गिरफ्त में 5 आरोपी आ गए हैं. अब आगे की कार्रवाई चल रही है.

Lalitpur Rape Case: आरोपी प‍िता, SP जिलाध्‍यक्ष के भाई समेत 4 गिरफ्तार, 150 पर Pocso लगेगा

दो बहनों को लगी गोली
बता दें, बुधवार की देर रात लगभग 10.00 बजे दुर्गा पंडाल से कुछ कदम की दूरी पर मामूली विवाद के चलते एक बड़ी घटना को अंजाम दिया गया. गुस्से में दबंगों ने सरेआम फायरिंग कर दी, जिसमें एक की मौत और दो घायल हो गए. दरअसल, बीती रात पंडाल में महाअष्टमी के अवसर पर देवी जागरण का कार्यक्रम चल रहा था. इसी बीच एसयूवी सवार पांच बदमाश आए और लाइसेंसी रिवॉल्वर से ताबड़तोड़ फायरिंग कर मंजीत यादव के सीने में गोली मार दी. मंजीत की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि उसकी दो बहनें भूमि यादव (14) और लकी यादव (10) गंभीर रूप से घायल हैं. दोनों बहनों को लखनऊ ट्रामा सेंटर में रेफर किया गया है.

पकड़े गए हमलावर
बदमाशों का विवाद छोटू यादव नाम के युवक से हुआ था, लेकिन वहां मौजूद मंजीत यादव पर इन आरोपी युवकों ने हमला बोल दिया. बता दें, आरोपी के पिता होमगार्ड विभाग में बीओ के पद पर तैनात हैं. आरोपी युवक और उसके पिता सभी लोग फरार चल रहे हैं. बता दें मौके पर मौजूद लोगों ने एक हमलावर को पकड़ लिया था. उससे लंबी पूछताछ की गई थी.अब बताया जा रहा है कि सभी आरोपी पुलिस गिरफ्त में हैं. एसएसपी शैलेश पांडेय का कहना है कि इस विवाद का दुर्गा पूजा पंडाल से कोई लेना देना नहीं है. इसमें जो आरोपी हैं, उनकी पहचान हो चुकी है. इन लोगों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस की 4 टीमें बनाई गई हैं. इनको अति शीघ्र गिरफ्तार कर लिया जाएगा.

प्यार में दिया धरना! 2 साल साथ रहने के बाद भागा बॉयफ्रेंड, लड़की ‘ससुराल’ के सामने जाकर बैठी

विपक्ष ने सरकार पर साधा निशाना
वहीं, घटना की सूचना मिलते ही विपक्षी सीधा सरकार पर हमलावर हो गए. समाजवादी पार्टी के पूर्व राज्य मंत्री तेज नारायण पांडे पवन ने कानून व्यवस्था पर सवाल खड़े कर दिए. उनका कहना है कि भाजपा सरकार में अपराधियों का मनोबल बढ़ गया है. इसके अलावा, नारायण पांडे ने मृतक के परिवार को 1 करोड़ का मुआवजा देने की मांग की. साथ ही, कहा है कि बेटियों का अच्छा इलाज होना चाहिए.

WATCH LIVE TV