PM किसान सम्मान निधि: यूपी के किसान ध्यान दें! डॉक्यूमेंट्स में आज ही करवा लें सुधार वरना अटक सकती है किस्त

लखनऊ: पीएम किसानी सम्मान निधि योजना (PM Kisan Samman Yojana) के लाभार्थियों को जल्द ही खुशखबरी मिलने वाली है. योजना के तहत जल्द ही किसानों को 10वीं किस्त मिल सकती है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, सरकार ने 10वीं किस्त जारी करने की तारीख तय कर ली है. इसके साथ ही पैसे ट्रांसफर करने के लिए भी पूरी तैयारी हो चुकी है. ऐसे में किसान पहले से ही रजिस्ट्रेशन करा लें ताकि वह 10वीं किस्त का फायदा उठा सकें. इसके साथ ही अगर डॉक्यूमेंट्स में किसी तरह की गड़बड़ी हो तो उसमें भी सुधार कर लें ताकि 10वीं किस्त न रुके या रुकी हुई किस्त मिल जाए.  

यूपी के किसानों के पास आज है आखिरी मौका!
योजना के लाभार्थी किसान अगर उत्तर प्रदेश से हैं, तो आज आपके डाक्यूमेंट्स में सुधार कराने का आखिरी मौका है. जी हां, दरअसल सरकार द्वारा प्रत्येक विकास खंडों के बीज गोदामों पर ‘पीएम किसान समाधान दिवस’ का कैंप लगाया गया है, जिसका आज आखिरी दिन है. आपको बता दें कि योजना से जुड़े यूपी के लाखों किसानों की किस्त रुकी हुई है. इन्हीं किसानों के लिए उत्तर प्रदेश कृषि विभाग प्रदेश के सभी जिलों में 11 अक्टूबर से 13 अक्टूबर तक ‘पीएम किसान समाधान दिवस’ आयोजित कर रहा है. 

यहां पहुंचकर डॉक्यूमेंट्स में करा सकते हैं सुधार 
समाधान दिवस पर मुख्य रूप से इनवैलिड आधार और आधार के अनुसार नाम व अन्य जानकारियां सही करायी जा रही हैं. ऐसे में जिन किसानों की किस्त लटकी हुई है, वो आधार कार्ड और बैंक खाते के डिटेल्स के साथ अपने विकास खंड के राजकीय बीज गोदाम पर पहुंचकर डाटा ठीक करा सकते हैं. इसके अलावा किसी अन्य तरीके की समस्या होने पर भी किसान समाधान दिवस में मदद ले सकते हैं. 

यूपी के इतने किसान हैं रजिस्टर्ड
पीएम किसान पोर्टल पर दिए गए ताजा आंकड़ों के मुताबिक, उत्तर प्रदेश में कुल 28144408 किसान इस योजना के तहत रजिस्टर्ड हैं. बता दें कि पेमेंट फेल होने की वजह से कई किसानों की अगस्त-नवंबर की किस्त अभी लटकी हुई है. जिसमें उत्तर प्रदेश के 658376 किसान शामिल हैं. इस बार पेमेंट फेल होने वाले लाभार्थियों में सबसे ज्यादा संख्या यूपी के किसानों की है. पेमेंट फेल होने की वजह से यूपी के 121676 किसानों के अकाउंट में पैसा नहीं पहुंचा है. 

इन कारणों से अटकती है किस्त
कई बार सरकार की तरफ से अकाउंट में पैसे ट्रांसफर करने के बावजूद किसानों के अकाउंट में नहीं पहुंचते. इसकी सबसे बड़ी वजह आपके आधार नंबर और बैंक अकाउंट डिटेल्स में गलतियां होना है. इसके अलावा अगर आपके बैंक खाते का नाम और आधार कार्ड पर दर्ज नाम की स्पेलिंग मैच नहीं कर रही है या फिर गलत IFSC कोड भरा है, तो भी आपकी आने वाली किस्तें अटक सकती हैं.

क्या है पीएम किसान सम्मान निधि?
पीएम किसान सम्मान निधि के तहत केंद्र सरकार किसानों द्वारा किसानों को हर वर्ष 6000 रुपए खेती के लिए दिए जाते हैं. केंद्र सरकार द्वारा इस योजना की शुरुआत किसानों को कर्जमुक्त कराने के लिए की गई है. सरकार 6,000 रुपये साल भर में 3 किस्तों में देती है. जिसके तहत 4 महीने में एक किस्त किसानों के खाते में भेजी जाती है. पहली किस्त 1 अप्रैल से 31 जुलाई, दूसरी किस्त 1 अगस्त से 30 नवंबर और तीसरी किस्त 1 दिसंबर से 31 मार्च के बीच भेजी जाती है. हर किस्त में 2000 रुपये दिये जाते हैं.

WATCH LIVE TV