Rahul Gandhi का काफिला पहुंचा राष्ट्रपति भवन, डेलीगेशन प्रेसिडेंट को सौंपेगा ज्ञापन

नई दिल्ली: लखीमपुर खीरी हिंसा मामले में राहुल गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस का एक प्रतिनिधिमंडल राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मिलने राष्ट्रपति भवन पहुंचा है. कांग्रेसियों का आरोप है कि सुप्रीम कोर्ट के हस्तक्षेप के बाद भी मामले में केंद्रीय मंत्री और उनके परिवार के खिलाफ उचित कार्रवाई नहीं की जा रही है. बता दें, राहुल गांधी को प्रेसिडेंट से मिलने के लिए 11.30 बजे का समय दिया गया था. ऐसे में राहुल गांधी का काफिला राष्ट्रपति भवन पहुंच चुका है…

ये नेता हैं शामिल
कांग्रेस पार्टी का 7 सदस्यीय डेलीगेशन राष्ट्रपति भवन में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात करने पहुंचा है. कांग्रेस के नेता लखीमपुर खीरी में हुई घटना में फैक्ट्स के साथ राष्ट्रपति को मेमोरेंडम देंगे. इसमें अजय मिश्रा के खिलाफ भी कार्रवाई की मांग रखी जाएगी. डेलीगेशन में राहुल गांधी, प्रियंका गांधी, गुलाम नबी आजाद, एके एंटोनी, व मल्लिका अर्जुन खड़गे शामिल हैं.

 

इस बात पर कांग्रेस कर सकती है चर्चा
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, कांग्रेस का यह प्रतिनिधिमंडल राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र टेनी के इस्तीफे की मांग कर सकता है. कांग्रेसियों का मानना है कि इस मामले में प्रेसिडेंट के हस्तक्षेप की आवश्यक्ता है. 

राष्ट्रपति से वक्त मांगने के लिए कांग्रेस ने लिखा था पत्र
गौरतलब है कि कांग्रेस ने राष्ट्रपति भवन को पत्र लिखकर प्रेसिडेंट कोविंद से मिलने का समय मांगा था. पत्र में यह लिखा गया था कि लखीमपुर खीरी की हिंसा ने पूरे देश को झकझोर कर रख दिया है. अजय मिश्र टेनी ने खुली चुनौती की वजह से लखीमपुर खीरी में हिंसा का माहौल बना और थार जीप से किसानों को कुचल दिया गया. कांग्रेस में पत्र में यह भी कहा है कि वहां मौजूद किसानों का आरोप है कि अजय मिश्र के बेटे ने ही किसानों को जीप से कुचला था. इतना ही नहीं, कांग्रेस का यह भी मानना है कि सुप्रीम कोर्ट के हस्तक्षेप के बाद भी सही तरीके से कार्रवाई नहीं हो रही है.

WATCH LIVE TV