बच्चों को कबसे लगनी शुरू होगी Covaxin? कितनी डोज लगेंगी? किसका पहले होगा टीकाकरण, यहां जानें सब कुछ

लखनऊ: कोरोनावायरस से बच्चों (Corona Vaccine for Kids) की सुरक्षा करने के लिए भी देश को हथियार मिल गया है. Drugs Controller General of India (DGCI) ने बच्चों के टीकाकरण (Covaxin for Kids) के लिए भी सहमति दे दी है. यानी कि अब 2 साल के बच्चों से लेकर 18 साल के बच्चों को भी कोरोना वैक्सीनेशन दी जाएगी. अब जान लीजिए किसे, कैसे और कब लगेगा टीका…

PAN-Aadhar Card लिंकिंग से लेकर Tax Refund के नाम पर ऐसे होते हैं Cyber Crime, बच के रहना जरूरी

सबसे पहले इन्हें मिलेगी वैक्सीन
बच्चों को वैक्सीन लगाने का काम जल्द ही शुरू किया जाएगा. इससे पहले ये जानना जरूरी है कि किसको और कब वैक्सीन दी जानी है. ऐसे में सरकार अब इसके लिए गाइडलाइन (Government Guideline for Vaccine) तैयार कर रही है. माना जा रहा है कि शुरुआत में वैक्सीन की संख्या कम होगी, इसलिए पहले उन बच्चों को टीका लगेगा, जिन्हें कैंसर, अस्थमा या दूसरी कोई गंभीर बीमारी है. 18+ वालों के समय भी बुजुर्गों और किसी बीमारी से ग्रसित लोगों को ही पहले वैक्सीन दी गई थी. बच्चों के केस में भी सेम क्राइटेरिया का इस्तेमाल किया जा रहा है.

बच्चों के साथ-साथ बड़ों को भी होगा फायदा
एक्सपर्ट्स के मुताबिक, जैसे-जैसे बच्चों को वैक्सीन लगती रहेगी, वैसे-वैसे बड़ों की सेफ्टी भी और मजबूत होती रहेगी. क्योंकि आशंका जताई जा रही है कि कोरोना की संभावित तीसरी लहर में बच्चों पर ज्यादा असर पड़ने वाला है. ऐसे में अगर बच्चें कोरोना से इंफेक्ट होते हैं तो उनके जरिये बुजुर्गों को भी बीमारी का खतरा बना रहेगा. लेकिन वैक्सीन मिलते ही बच्चे भी प्रोटेक्ट होंगे और साथ ही वायरस फैलने का खतरा भी कम हो जाएगा.

UP Power Crisis In-Depth: ऐसा क्या हुआ कि बिजली पर गहराया संकट? जानें क्यों बन रहे ये हालात

क्या बूस्टर डोज होगा जरूरी?
बता दें, अभी व्यस्कों के लिए भी बूस्टर डोज पर विचार ही चल रहा है. कहा नहीं जा सकता कि यह बच्चों के लिए जरूरी होगी या नहीं. एक्सपर्ट्स का कहना है कि ऐसे लोग, जिनमें एंटीबॉडीज कम हो रही हैं या फिर वर्कर्स और बुजुर्गों को बूस्टर डोज देने पर विचार किया जा रहा है. फिलहाल फोकस पूरी आबाद को दोनों डोज से वैक्सीनेट करना है. उम्मीद है कि पूरी जनता को दिसंबर तक वैक्सीन की कम से कम एक डोज मिल जाएगी.

ट्रायल में बच्चों पर असरदार साबित हुई वैक्सीन
भारत बायोटेक ने देश के बच्चों पर कोवैक्सीन का ट्रायल किया था. 28 दिन के गैप पर बच्चों को दोनों डोज लगाए गए थे. रिपोर्ट्स में सामने आया था कि बच्चों पर इस वैक्सीन का अच्छा असर हुआ है और कोई साइड इफेक्ट भी नजर नहीं आया है. अब जनता बच्चों को वैक्सीन लगाने की तारीखों का इंतजार कर रही है.

WATCH LIVE TV