मध्यप्रदेश में खाद की लूट के मामले पर सियासी वार तेज, कमलनाथ सहित विपक्ष हुई हमलावर

भोपाल: मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) में खाद के मामले को लेकर किसान (Farmers) उग्र रूप ले रहे हैं. मुरैना में किसानों ने सोमवार को खाद से भरा एक ट्रक लूट लिया था. हालात बेकाबू होते देख मौके पर पहुंची पुलिस ने किसानों पर लाठीचार्ज भी किया था, जिसके बाद किसान बोरियां लेकर भाग गए थे. इस मामले को विपक्ष भुनाने की कोशिश में है. प्रदेश में खाद की किल्लत पर विपक्ष जमकर निशाना साध रही है. खाद मामले पर पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ (Kamalnath) ने ट्वीट कर सरकार पर हमला करते हुए लिखा ‘एमपी के किसान बिजली और खाद के दोहरे संकट से परेशान हैं. प्रदेश में रबी फसल की बुवाई शुरू हो चुकी है. खाद नहीं मिलने से किसान परेशान हैं, डीएपी की भारी कमी बनी हुई है और जमकर कालाबाजारी हो रही है. किसान खाद के लिये लंबी-लंबी लाइनों में लगे हुए हैं’. कमलनाथ ने कहा ‘खुद केंद्रीय कृषि मंत्री के क्षेत्र में बुरी स्थिति है, कमी के कारण खाद की लूट हो रही है. प्रदेश के सहकारिता मंत्री के क्षेत्र में भी खाद की लूट की घटना हो चुकी है’.

 

सरकार पर साधा निशाना

इसी के साथ जीतू पटवारी ने भी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा शिवराज जी बिजली संकट शुरू होते ही, खाद की परेशानी ने भी ग्रामीण अंचलों को बेहाल करना शुरू कर दिया है, सरकार किसानों से किस जुर्म का बदला ले रही है? खाद के मामले पर सराकर घिरती नजर आ रही है. भिंड, मुरैना और ग्वालियर में किसान प्रदर्शन भी कर रहे हैं. 

शराबबंदी पर फिर गरमा सकती है सियासत, उमा भारती की चेतावनी को नजरअंदाज कर खपत बढ़ाने को लेकर सरकार की बैठक

किसानों का दिख रहा उग्र रूप

हाल के दिनों में मुरैना शहर में किसानों ने खाद नहीं मिलने पर हाइवे पर चक्काजाम किया था. मामले को लेकर कानून की परवाह किेए बिना किसान उग्र रूप ले रहे हैं. भिंड में भी खाद लूट का मामला सामने आया था. इसके अलावा सोमवार को मुरैना में किसानों ने सबलगढ़ में आए खाद के ट्रक को लूटना शुरू कर दिया. खबर मिलते ही तुरंत पुलिस मौके पर पहुंची और किसानों को रोकने की कोशिश की. मामला बढ़ता देख पुलिस ने लाठीचार्ज किया, जिके बाद किसान बोरी लेकर भाग गए.

Watch Live TV