भ्रष्टाचार के मुद्दे पर बिहार सरकार के खिलाफ जमकर बरसे तेजस्वी, BJP ने दिलाई लालू राज की याद

Patna: बिहार में एक बार से सत्ता पक्ष व विपक्ष में सियासी बयानबाजी जारी है. नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) ने नीतीश कुमार की सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि राज्य में भ्रष्टाचार चरम पर है. साथ ही तेजस्वी ने यह भी कहा कि ब्लॉक स्तर से लेकर बड़े ऑफिस अधिकारियों को बिना गांधीजी दिए यानी कि घूस दिए कोई काम नहीं होता है. 

तेजस्वी के इस बयान के बाद बिहार में राजनीति शुरू हो गई. इस बयान के बाद जेडीयू और बीजेपी ने आरजेडी पर पलटवार करते हुए कहा कि लालू-राबड़ी राज में कोई काम बिना गांधी जी के लिए नहीं होता था.

राजद नेता के बयान पर भाजपा (BJP) ने कहा कि गांधी जी देश की आजादी के लिए निकले थे और कठिन परिस्थितियों के बाद देश को आजादी मिली थी. ऐसे में गांधीजी मोहनचंद करमचंद गांधी से महात्मा गांधी बन गए लेकिन कभी उन्होंने यह नहीं सोचा होगा कि उनके नाम पर बिहार में ऐसी राजनीति होगी जिसमें लूट भ्रष्टाचार अपहरण फिरौती जैसे नाम आये और काम हो.

ये भी पढ़ें- JDU के पूर्व MLC ने थामा RJD का झंडा, तेजस्वी बोले-‘CM नीतीश नेता नहीं अधिकारी बन गए हैं’

दरअसल, बिहार में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने बिहार सरकार पर निशाना साधते हुए यह कहा कि बिहार में भ्रष्टाचार चरम सीमा पर है. ब्लॉक स्तर से लेकर बड़े ऑफिस और अधिकारियों को बिना गांधीजी दिए यानी कि घूस दिए कोई काम नहीं होता तेजस्वी के इस बयान के आने के बाद बिहार राजनीति शुरू हो गई

इल मामले में पूर्व विधायक हरखू झा ने कहा की तेजस्वी यादव, उपेंद्र कुशवाहा या बीजेपी और मंत्रिमंडल के जो सदस्य कह रहे हैं वह सब सही कह रहे हैं क्योंकि सीबीआई ईडी जैसी संस्थाओं द्वारा की गई छापेमारी में अधिकारियों के घर से करोड़ों की संपत्ति पकड़ा जा रहा है. इससे साफ है कि अधिकारियों द्वारा राज्य में भ्रष्टाचार किया जा रहा है.

‘राजद ने नीतीश सरकार को बताया अफसरशाही’
वहीं, आरजेडी प्रवक्ता भाई बिरेंद्र ने कहा कि बिहार में अफसरशाही है. गांधी और लोहिया के नाम लेकर गांधी और लोहिया के विचारों को यह लोग गाली देने का काम कर रहे हैं. यह लोग दंगाई लोग हैं. बिहार में लोकतंत्र समाप्त होता नजर आ रहा है. उन्होंने आगे कहा कि आरजेडी की 15 साल की सरकार में गरीबों का शासन रहा राज्य के गरीबों का राज था. उन्होंने कहा कि आज बिहार में प्रतिदिन मर्डर बलात्कार लूट हो रहे हैं. इस सरकार के पदाधिकारी मालामाल हो रहे हैं. सही से छापेमारी हो तो मुख्यमंत्री के अगल-बगल में बैठने वाले भी पकड़े जाएंगे.

ये भी पढ़ें-  मेगा वैक्सीन ड्राइव को लेकर तेजस्वी का नीतीश पर हमला, कहा- कुर्सी बचाने के लिए TTM कर रहे हैं CM

जेडीयू ने तेजस्वी के बयान पर दिया मुंहतोड़ जवाब
जेडीयू प्रवक्ता अभिषेक झा ने कहा कि कहीं भी किसी अधिकारी के तरफ से गड़बड़ी होती है तो हमारी सरकार पहले भी कार्रवाई करके अधिकारियों पर नकेल कसती रही है और आगे भी कार्रवाई होगी. उन्होंने कहा कि तेजस्वी यादव को केवल गांधी जी की तस्वीर दिखाई देती है क्योंकि उनकी पार्टी और परिवार भ्रष्टाचार में नीचे से ऊपर तक भरा हुआ है. ये ऐसे लोग हैं जिनको जनता से कोई मतलब ही नहीं रहा है. तेजस्वी यादव गांधी जी की मूर्ति के नीचे शपथ लेते है और अगले दिन दिल्ली रवाना हो जाते हैं.  

तेजस्वी यादव के बयान पर बीजेपी ने किया पलटवार
तेजस्वी यादव के इस बयान पर बीजेपी प्रवक्ता मृत्युंजय झा ने पलटवार करते हुए कहा कि तेजस्वी यादव क्या बोलेंगे, उनके पिता के समय में प्रदेश में क्या हाल था सब लोग जानते हैं. जब उनके पिता लालू यादव का शासन था किस प्रकार की बातें होती थी. बिना गांधीजी का कोई काम नहीं होता था. जब वह गांधी जी की बात कर रहे हैं.