दो दिन पहले दफनाए गए शव को आज पुलिस ने कब्र खोदकर निकाला, जानिए क्यों किया ऐसा

इंदौरः मध्य प्रदेश के इंदौर से आज एक अनोखा मामला सामने आया है. क्योंकि यहां पुलिस ने कब्र खोदकर एक लाश निकाली. पुलिस को इस मामले में हत्या की आशंका थी. इस दौरान जब पुलिस ने कब्र से लाश निकाली तो यह मामला लोगों में चर्चा का विषय बन गया. 

दरअसल, एक लड़की ने अपने ही चाचा की मौत को लेकर पड़ोसी लोगों पर मार पीट कर हत्या करने का आरोप लगाया है. जिसके बाद पुलिस और जिला मजिस्ट्रेट अधिकारी ने कब्रिस्तान पहुंचकर शव को मजदूर से खुदवाकर बाहर निकल वाया और पोस्टमार्टम के लिए एमवाय अस्पताल भेजा. अब पीएम रिपोर्ट आने के बाद ही यह स्पष्टीकरण हो सकेगा. आखिरकार मृतक की मौत एक नॉर्मल मृत्यु है या उसकी मारपीट के दौरान मौत हुई है. 

यह है मामला 
इंदौर के रावजी बाजार थाना क्षेत्र के चंपा बाग मैं रहने वाले 60 वर्षीय असलम नामक व्यक्ति की दो दिनों पहले मौत हो जाने के बाद आसपास रहने वाले रहवासी लोगों ने मृतक के शव को लुनियापुरा कब्रिस्तान में दफना दिया.  जब मृतक के अन्य परिजनों को उसकी मौत की जानकारी लगी तो उन्होंने मामले में हत्या का संदेह जताया. मृतक की भतीजी ने मकान मालिक के परिवार के लोगों पर मारपीट कर हत्या करने का संदेह जताया. 

भतीजी ने पुलिस में पहुंचकर पूरे मामले की जानकारी दी. उसने पुलिस को बताया कि उसके चाचा की मौत नहीं बल्कि उनकी हत्या की गई है. लड़की के आरोपों के बाद पुलिस एक्टिव हुई. जिसके बाद पुलिस और मजिस्ट्रेट महिला अधिकारी ने लुनियापुरा कब्रिस्तान पहुंचकर मजदूर की मदद से कब्र को खुदवाया और असलम के शव को बाहर निकला. पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए एमवाय अस्पताल भेजा. 2 दिन पूर्व ही मृतक के शव को दफनाया गया था. ऐसे में शव के पास जो भी अवशेष मिले हैं, वह पोस्टमार्टम के लिए भेजे गए हैं. 

मामले में रावजी बाजार थाना की जांच अधिकारी सीमा धाकड़ कहना है कि अब पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत की असल वजह सामने आ सकेगी. इस पूरे मामले की जांच मजिस्ट्रेट लेवल पर हो रही है. उन्होंने बताया कि महिला मजिस्ट्रेट अधिकारी पूरे मामले की जांच कर रही है. जल्द ही मामले का खुलासा किया जाएगा. 

ये भी पढ़ेंः मसाज करवाने गए युवक की स्पा सेंटर के बाहर हुई ‘लट्ठ मसाज’, इस बात को लेकर हुआ विवाद

WATCH LIVE TV