Rajasthan : 37 दिन में न्यूनतम समर्थन मूल्य पर साढ़े 10 लाख मैट्रिक टन गेहूं की खरीद

Jaipur : कोरोना महामारी के बीच राजस्थान (Rajasthan News) ने 37 दिन में  न्यूनतम समर्थन मूल्य पर साढ़े 10 लाख मीट्रिक टन गेहूं खरीदकर है. करीब एक लाख किसानों को राहत दी है. जो की रबी विपणन वर्ष 2021- 22 के लक्ष्य के मुताबिक 45 फीसदी है. हालांकि समर्थन मूल्य पर गेहूं की खरीद जून माह तक चलती है. उधर राज्य सरकार (Rajasthan Government) की ओर से कोरोना संक्रमण को देखते हुए 10 से 24 मई तक सख्त लोग डउन लगाया गया है ऐसे में क्रय केंद्रों पर समर्थन मूल्य पर खरीद होगी या नहीं इस पर संशय बरकरार है

यह भी पढे़ं- Oxygen सप्लाई करने में दिन-रात जुटा Ajmer Gas Plant, 12 से 15 घंटे काम कर रहे वर्कर

37 दिन में साढ़े 10 लाख मैट्रिक टन गेहूं की खरीद
खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग सचिव नवीन जैन ने बताया कि प्रदेश में न्यूनतम समर्थन मूल्य पर गेहूं की खरीद के लिए 387 क्रय केंद्र स्थापित किए गए हैं. उन्होंने बताया कि न्यूनतम समर्थन मूल्य पर भारतीय खाद्य निगम (FCI) ने लगभग 7.30 लाख, तिलम संघ ने 1.35 लाख राजफेड ने 1.8 लाख और नैफेड ने 65 हजार मैट्रिक टन गेहूं की खरीद अभी तक की है. उन्होंने बताया कि अभी तक मंडियों में 11.50 लाख मैट्रिक टन गेहूं की आवक हुई है जिसमें से विभाग ने  न्यूननतम समर्थन मूल्य पर 10.50 लाख मैट्रिक टन गेहूं की खरीद कर ली गई है. उन्होंने बताया कि कुल खरीद का बड़ा भाग कोटा और बीकानेर संभाग में किया गया है.

37 दिन में लक्ष्य के मुताबिक 45 फीसदी हुई खरीद
केंद्र सरकार द्वारा प्रदेश में रबी विपणन वर्ष 2021 -22 के तहत न्यूनतम समर्थन मूल्य 1 हजार 975 प्रति क्विंटल के हिसाब से 22 लाख मैट्रिक टन गेहूं की खरीद का लक्ष्य निर्धारित किया है. खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग की ओर से जारी आंकड़ों के अनुसार 1 अप्रैल से प्रदेशभर में गेहूं की खरीद समर्थन मूल्य पर शुरू की गई थी. अभी तक 37 दिन में लक्ष्य के मुताबिक 45 फीसदी गेहूं की खरीद किसानों से की जा चुकी है.

गेहूं क्रय केंद्रों पर कोरोना गाइडलाइन की शत प्रतिशत हो पालना
कॉविड 19 वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए गेहूं क्रय केंद्रों पर सरकार द्वारा जारी गाइडलाइन की शत-प्रतिशत पालना की जाए. उन्होंने कहा कि क्रय केंद्रों पर मास्क पहनने, सामाजिक दूरी, सैनिटाइजर करना और थर्मल स्क्रीनिंग आदि पर विशेष ध्यान दिया जाना सुनिश्चित करें.

10 से 24 मई तक लॉकडाउन, खरीद होगी या नहीं संशय !
खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग के शासन सचिव नवीन जैन ने बताया कि लगातार बढ़ते कोरोना संक्रमण के आंकड़ों के बाद राज्य सरकार ने 10 मई से 24 मई तक सख्त लॉकडाउन लगाया है. ऐसे में क्रय केंद्रों पर खरीद समर्थन मूल्य पर गेहूं की खरीद की जाएगी या नहीं इसको लेकर उच्च स्तरीय अधिकारियों से चर्चा कर फैसला लिया जाएगा. क्योंकि लगातार कोरोना के आंकड़े दिनों दिन बढ़ते जा रहे हैं और अब यह ग्रामीण क्षेत्रों में सबसे ज्यादा पैर पसार रहे हैं.  हालांकि क्रय केंद्रों पर पूरी तरीके से सैनिटाइजेशन और सोशल डिस्टेंसिंग के साथ समर्थन मूल्य पर गेहूं की खरीद की जा रही है.

यह भी पढे़ं- Corona भूल बिना Mask-Social Distancing के थिरक रहे थे बाराती, पुलिस पहुंची तो भागने लगे