लंबे समय तक नहीं टिक पाएगी Rohit Sharma की कप्तानी, ये खिलाड़ी जल्द बनेगा भारत का कप्तान!

नई दिल्ली: टीम इंडिया का नया टी20 कप्तान हाल ही में दिग्गज ओपनिंग बल्लेबाज रोहित शर्मा को चुना गया है. बता दें कि टी20 वर्ल्ड कप के ठीक बाद विराट कोहली ने इस टीम की कप्तानी छोड़ दी थी. रोहित के फैंस को लंबे समय से इस बात का इंतजार था कि वो टीम के कप्तान नियुक्त हो. लेकिन रोहित इस वक्त 34 साल के हैं. बहुत से क्रिकेटर इस उम्र तक अपनी रिटायरमेंट का ऐलान कर देते हैं. जिससे एक बात तो साफ है रोहित चाहकर भी ज्यादा लंबे समय तक कप्तानी नहीं कर सकते हैं. ऐसे में टीम इंडिया के पास पहले से एक खिलाड़ी ऐसा मौजूद है जो उनके बाद लंबे समय तक कप्तान बना रह सकता है. 

रोहित का लंबे समय तक कप्तान बने रहना मुश्किल 

दरअसल रोहित शर्मा का वनडे टीम का कप्तान बनना इसलिए मुश्किल है क्योंकि उनकी उम्र अब 34 साल हो चुकी है और वो विराट कोहली (33) से भी एक साल बड़े ही हैं. इस उम्र में आकर बड़े-बड़े खिलाड़ियों की फिटनेस जवाब देने लगती है और वो रिटायमेंट की प्लानिंग करने लगते हैं. 7-8 साल के लंबे समय के बारे में सोचकर रोहित को नया कप्तान नहीं बनाया जा सकता है. ऐसे में कुछ ही सालों के बाद टीम इंडिया के लिए फिर एक नए कप्तान की खोज की जाएगी. ऐसे में पंत एक अच्छे ऑप्शन हो सकते हैं. 

ये खिलाड़ी बन सकता है नया कप्तान

टीम इंडिया के युवा विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत रोहित शर्मा के बाद फुल टाइम नया कप्तान बनने के बड़े दावेदार हैं. पंत अभी सिर्फ 24 साल के हैं और उन्होंने अपने कप्तानी करियर की शुरुआत आईपीएल में बेहतरीन की. ये बात तो तय है कि पंत ने बहुत ही कम समय में खुद की जगह एक लंबे समय के लिए भारतीय टीम में बना ली है. वो अभी युवा हैं और उनके पास अभी एक लंबा करियर बाकी है. इसी वजह से वो किसी भी खिलाड़ी से ज्यादा उपयोगी साबित हो सकते हैं. उनको रोहित की जगह इस टीम की कमान सौंपी जा सकती है.

आईपीएल में कप्तानी का अनुभव 

आईपीएल 2021 में भी ऋषभ पंत ने दिल्ली कैपिटल्स की कप्तानी बेहतरीन अंदाज में की. दिल्ली लीग मैचों के बाद अंक तालिका में टॉप पर रही. हालांकि क्वालीफायर के दोनों मैचों में इस टीम को हार झेलनी पड़ी. फिर भी पंत ने पहली ही बार में दिखा दिया कि वो कप्तानी कैसे कर सकते हैं. विकेट के पीछे से कई बार देखा जाता है कि पंत चिल्ला-चिल्ला कर गेंदबाजों को सही दिशा में गेंदबाजी करने के लिए बताते रहते हैं. इससे ये बात भी समझ आती है कि विकेट के पीछे रहने वाले खिलाड़ी को किसी भी खिलाड़ी से ज्यादा खेल की समझ रहती है.