तालिबान की करतूत के बाद अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड पर लगेगा बैन? ICC ने जारी किया नया बयान

नई दिल्ली: अफगानिस्तान (Afghanistan) में सत्ता पर काबिज होने के बाद तालिबान (Taliban) ने अपने मुल्क में महिलाओं के क्रिकेट खेलने पर रोक लगा दी थी जिसकी पूरी दुनिया में कड़ी निंदा की गई थी. क्रिकेट के साथ-साथ इस देश में महिलाओं के सभी तरह की स्पोर्ट्स एक्टिविटी पर बैन लग चुका है.

AFG में महिला क्रिकेट की वापसी कब?

अफगानिस्तान (Afghanistan) में महिला क्रिकेट की कब वापसी होगी इसको लेकर स्थिति अभी भी साफ नहीं है. आईसीसी के सदस्य देशों के लिए महिला और पुरुष दोनों टीम रखना जरूरी है, ऐसें क्या अफगान टीम की मेंबरशिप रद्द हो जाएगी, ये बड़ा सवाल है. आईसीसी ने पिछले हफ्ते अफगानिस्तान में हालिया राजनीतिक घटनाक्रम के मद्देनजर क्रिकेट की समीक्षा के लिए एक कार्यसमूह का गठन किया है.
 

ICC ले सकती है बड़ा फैसला!

आईसीसी अध्यक्ष (ICC President) ग्रेग बार्कले (Greg Barclay) ने कहा,‘अफगानिस्तान आईसीसी का फुल टाइम मेंबर है. हम वहां महिला और पुरूष क्रिकेट कार्यक्रम को मदद जारी रखना चाहते हैं. हम वह करते रहेंगे लेकिन आईसीसी का सदस्य बने रहने के लिए कुछ मानदंडों पर खरा उतरना जरूरी है. हमने उनका उल्लंघन नहीं देखा है और आईसीसी के सदस्य के तौर पर हम उसकी मदद करते रहेंगे.’
 


आईसीसी अध्यक्ष ग्रेग बार्कले (फाइल फोटो) 

ACB ने किया था बड़ा इशारा

अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड (Afghanistan Cricket Board) ने इशारा किया था कि वो महिलाओं की क्रिकेट में भागीदारी को लेकर विचार कर रहा है. बोर्ड ने इसी महीने महिला क्रिकेटर्स की तस्वीर साझा की थी. एसीबी (ACB) ने अपने ऑफिशियल ट्विटर हैंडल पर एक पोस्ट किया, जिसकी एक तस्वीर में 2 लड़किया मैदान में क्रिकेट खेलती हुई नजर आ रही हैं. एसीबी ने लिखा, ‘क्रिकेट न सिर्फ अफगानिस्तान में खेल या मनोरंजन को बढ़ावा देता है, बल्कि युवा अफगान पीढ़ी के लिए प्रेरणा के स्रोत के रूप में भी काम करता है और देश में एकता और शांति सुनिश्चित करने में भी एक अहम रोल निभाता है.’