T20 वर्ल्ड कप से बाहर हुआ Virat Kohli का सबसे बड़ा ‘दुश्मन’, एक झटके में पलट देता है मैच

नई दिल्ली: टी20 वर्ल्ड कप को शुरू होने में अब सिर्फ 4 दिनों का समय बाकी है. इस मेगा टूर्नामेंट के लिए सभी देशों ने अपनी टीम की घोषणा कर दी है. लेकिन अभी भी कोई भी टीम अपने खिलाड़ियों में कुछ बदलाव कर सकती है. हालांकि इसी बीच पिछली बार की चैंपियन वेस्टइंडीज ने एक बड़े मैच विनर को अपने टीम से बाहर रखने का फैसला किया है. 

टी20 वर्ल्ड कप से बाहर हुआ विराट का दुश्मन  

वेस्टइंडीज के कप्तान कीरोन पोलार्ड ने कहा कि इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में कोलकाता नाइट राइडर्स (केकेआर) की तरफ से अच्छा प्रदर्शन करने के बावजूद स्पिनर सुनील नारायण को टी20 विश्व कप के लिए कैरेबियाई टीम में नहीं लिया जाएगा. 33 साल के नारायण ने सोमवार को रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर के खिलाफ चार विकेट लेने के अलावा बल्लेबाजी में भी कमाल दिखाया. यूएई लेग में उन्होंने आठ मैचों में 11 विकेट लिए हैं, लेकिन उन्होंने अगस्त 2019 से अंतरराष्ट्रीय मैच नहीं खेला है जिससे मौजूदा चैंपियन वेस्टइंडीज ने उन्हें विश्व कप के लिए टीम में नहीं रखा. टीम में बदलाव करने की आईसीसी की समयसीमा शुक्रवार को समाप्त हो रही है.

आरसीबी को दिखाया था बाहर का रास्ता

बता दें कि सुनील नारायण वही खिलाड़ी हैं जिन्होंने केकेआर के लिए खेलते हुए आरसीबी के खिलाफ एलिमिनेटर मैच में सबसे ज्यादा 4 विकेट झटके थे. ये विकेट खुद विराट कोहली, एबी डिविलियर्स, ग्लैन मैक्सवेल और केएस भरत जैसे बल्लेबाजों के थे. इतना ही नहीं इसके बाद नारायण ने एक ही ओवर में तीन लगातार छक्के लगाकर मैच को आरसीबी के हाथ से खींच लिया. वो विराट कोहली के लिए एक बड़े दुश्मन इसलिए बन गए क्योंकि ये आरसीबी के लिए कप्तानी करते हुए विराट कोहली का आखिरी आईपीएल था और वो इसे नारायण की वजह से हार गए. 

वेस्टइंडीज टीम में नहीं होंगे बदलाव 

पोलार्ड ने ईएसपीएनक्रिकइन्फो से कहा, ‘अगर मैं टीम में उसको शामिल नहीं करने के कारणों पर बात करता हूं तो इसे तोड़ मरोड़कर पेश किया जा सकता है.’ उन्होंने कहा, ‘बेहतर है कि हम उन 15 खिलाड़ियों पर ध्यान दें तो जो अभी हमारे पास है. यह हमारे लिए अधिक महत्वपूर्ण है. हमें इस पर काम करना होगा कि क्या हम इन खिलाड़ियों के साथ अपने खिताब का बचाव कर सकते हैं.’

पोलार्ड ने कहा, ‘मैं इस पर टिप्पणी नहीं करना चाहता. इस पर काफी कुछ कहा जा चुका है. मुझे लगता है कि उसको टीम में शामिल नहीं करने के कारण तभी बता दिए गए थे. व्यक्तिगत तौर पर मैं सुनील नारायण को एक अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटर से पहले अच्छा दोस्त मानता हूं. हम साथ में खेलते हुए बड़े हुए. वह विश्वस्तरीय क्रिकेटर है.’ पोलार्ड हालांकि आंद्रे रसेल को अपनी टीम में चाहते हैं जो चोटिल होने के कारण 26 सितंबर से आईपीएल का कोई मैच नहीं खेल पाए हैं.