बीसीसीआई ने ईसीबी को अगले साल एक टेस्ट मैच या दो T20 मैच खेलने का दिया ‘ऑफर’, जानें पूरा मामला

BCCI Statement: भारत और इंग्लैंड के बीच पांचवां टेस्ट मैच रद्द होने के बाद लगातार चर्चाओं का दौर जारी है. इंग्लैंड के तमाम दिग्गजों ने इस पर नाराजगी जाहिर की है. हालांकि भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) इस मामले को लेकर इंग्लैंड बोर्ड से बातचीत कर रहा है. बीसीसीआई ने पुष्टि की है कि उसने जुलाई 2022 में भारतीय टीम के इंग्लैंड दौरे के दौरान इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ECB) को हुए नुकसान की भरपाई के लिए दो अतिरिक्त टी20 मैच खेलने की पेशकश की है.  पिछले दिनों कोविड-19 के खतरे के कारण मैनचेस्टर टेस्ट रद्द कर दिया गया था. 

क्या बोले बीसीसीआई के सचिव जय शाह? 
बीसीसीआई सचिव जय शाह (Jay Shah) ने कहा कि अगर ईसीबी पांचवें टेस्ट को लेकर गतिरोध को सौहार्दपूर्ण ढंग से सुलझाने के लिए सहमत हो जाता है, तो दो अतिरिक्त टी20 अंतर्राष्ट्रीय मैचों की पेशकश कायम रहेगी. शाह ने क्रिकेट वेबसाइट ‘क्रिकबज’ को बताया, “यह सही है कि जब हम अगले जुलाई में इंग्लैंड का दौरा करेंगे, तब दो अतिरिक्त टी20 खेलने की पेशकश की है. तीन टी 20 मैचों के बजाय हम पांच टी 20 मैच खेलेंगे. वैकल्पिक रूप से हम एक खेलने के इच्छुक होंगे -ऑफ टेस्ट भी. यह उन पर निर्भर करता है कि वे इनमें से किसी एक प्रस्ताव को चुनें.”

ईसीबी के पाले में है गेंद
बीसीसीआई ने एक टेस्ट मैच या दो टी20 मैच चुनने का अधिकार ईसीबी पर छोड़ दिया है, जो अगले साल इंग्लैंड की यात्रा के दौरान खेला जा सकता है. यदि ईसीबी एक टेस्ट खेलने का विकल्प चुनता है, तो यह एक श्रृंखला का पांचवां मैच होगा, ठीक उसी तरह जो रद्द हो गया था, न कि एक स्टैंडअलोन गेम. अभी तक ईसीबी ने इसे लेकर कोई फैसला नहीं लिया है. 

इंग्लैंड के पूर्व क्रिकेटर बोले- ‘भारत ने टेस्ट क्रिकेट का सम्मान नहीं किया’
इंग्लैंड के पूर्व क्रिकेटर पॉल न्यूमैन ने भारतीय कैंप में कोरोना मामले सामने आने के कारण मैनचेस्टर में होने वाले पांचवें टेस्ट मैच के रद्द होने को लेकर भारतीय क्रिकेटर, बीसीसीआई और आईपीएल को निशाने पर लिया. न्यूमैन ने कहा कि भारत ने इस सीरीज का सम्मान नहीं किया और उन्होंने चौथे टेस्ट से पहले कोविड के दिशा-निर्देशों का उल्लंघन करके टेस्ट क्रिकेट का सम्मान नहीं किया. उन्होंने एक कॉलम में कहा, “अगर भारत के अधिकांश खिलाड़ी अमीर टूर्नामेंट की शुरूआत के लिए दुबई नहीं जा रहे होते तो पहले दिन खेल को सुबह रद्द नहीं किया जाता.”

न्यूमैन ने कहा, “कोई भी भारतीय खिलाड़ी जिसका आईपीएल अनुबंध है वो टेस्ट खेलने का जोखिम नहीं लेता जिससे अगर वह पॉजिटिव पाया जाता तो उसे इंग्लैंड में और 10 दिन रुकना पड़ता और वह 19 सितंबर से शुरू हो रहे आईपीएल को मिस कर देता.” उन्होंने लंदन में चौथे टेस्ट से पहले टीम इंडिया के मुख्य कोच रवि शास्त्री के पुस्तक विमोचन कार्यक्रम को भी इसके लिए जिम्मेदार ठहराया.

यह भी पढ़ेंः IPL 2021: KKR के कोच मैकुलम ने कहा- भारत में आईपीएल के पहले फेज के दौरान बेहद डरे हुए थे सभी लोग

IPL 2021 Team Auction: आईपीएल की नई टीमों के लिए नीलामी 17 अक्टूबर को होगी ! जानें कहां होगी यह प्रक्रिया