बैरीज और टमाटर से बढ़ाएं खूबसूरती, महिलाओं को फिट रखते हैं ये सुपरफूड

Food For Women Health: भागदौड़ भरी जिंदगी में महिलाओं की लाइफ Super Busy है. घर-परिवार, बच्चों की जिम्मेदारी और अब वर्किंग होने के साथ ऑफिस के काम की भी जिम्मेदारी होने लगी है. ऐसे में घर और दफ्तर को मैनेज करते करते कई बार महिलाएं अपनी सेहत पर ध्यान नहीं दे पाती हैं, जिससे स्वास्थ्य संबंधी कई परेशानियां होने लगती है. स्वस्थ रहने के लिए महिलाओं को हेल्दी डाइट जरूर लेनी चाहिए. हर महीने पीरियड्स, प्रेग्नेंसी और मेनोपॉज तक महिलाओं की जिंदगी में कई तरह के बदलाव आते हैं. ऐसे में महिलाओं को कुछ ऐसे सुपरफूड अपनी लाइफस्टाइल में जरूर शामिल करने चाहिए, जो उनके स्वास्थ्य और सुंदरता का ध्यान रख सकें. 

महिलाओं के लिए सुपरफूड (Women Superfood)

1- टमाटर- टमाटर खाने से स्किन अच्छा रहती है और बढ़ती उम्र के लक्षणों को कम करने में मदद मिलती है. टमाटर में लाइकोपीन नाम का पोषक तत्व होता है, जिससे ब्रेस्ट कैंसर का खतरा कम होता है. इसमें मजबूत एंटीऑक्सीडेंट होते हैं जो दिल की बीमारियों से लड़ने में मदद करता है. 

2- बेरीज- महिलाओं के स्वास्थ्य के लिए बेरी भी बहुत फायदेमंद हैं. स्ट्रॉबेरी, रास्पबेरी, ब्लूबेरी और क्रैनबेरी में एंटी-कैंसर पोषक तत्व होते हैं. बेरीज विटामिन सी और फोलिक एसिड का अच्छा स्रोत हैं. प्रेग्नेंसी में भी बेरीज खाने की सलाह दी जाती है. बेरीज में एंटी-एजिंग तत्व भी पाए जाते हैं. इसके अलावा यूरिनरी ट्रैक्ट इन्फेक्शन को भी कम करने में भी बेरीज मदद करती हैं. 

3- मिल्क- महिलाओं में कैल्शियम और विटामिन डी की कमी पुरुषों के मुकाबले बहुत ज्यादा होती है. ऐसे में महिलाओं को अपनी डाइट में लो फैट मिल्क शामिल करना चाहिए. दूध से शरीर में विटामिन D और कैल्शियम की कमी को पूरा किया जा सकता है. विटामिन D से महिलाओं में ऑस्टियोपोरोसिस का खतरा कम हो जाता है. डायबिटीज, मल्टीपल स्केलेरोसिस और ब्रेस्ट और ओवरी के ट्यूमर का खतरा भी कम हो जाता है.

4- बीन्स- बीन्स प्रोटीन और फाइबर से भरपूर होती हैं. बीन्स में फैट बहुत कम होता है. बीन्स खाने से दिल की बीमारिय और ब्रेस्ट कैंसर के खतरे को कम किया जा सकता है. महिलाओं के लिए बीन्स सबसे ज्यादा फायदेमंद है. इसे खाने से हार्मोंस बैलेंस रहते हैं. बीन्स खाने से ब्रेस्ट कैंसर का खतरे भी कम हो जाता है. बीन्स खाने से बेड कोलेस्ट्रॉल कम हो जाता है और पेरिमेनोपॉज के दौरान हार्मोंस में होने बदलाव में स्थिरता आती है.

 
5- दही- महिलाओं को अपने स्वास्थ्य का ख्याल रखते हुए डाइट में दही यानि लो फैट योगर्ट जरूर शामिल करना चाहिए. कई रिसर्च में पाया गया है कि दही खाने से ब्रेस्ट कैंसर का खतरा कम होता है. दही खाने से पेट से जुड़ी परेशानियां भी दूर हो जाती हैं. इसके अलावा दही खाने से अल्सर और वेजाइनल इंफेक्शन का खतरा भी कम होता है. हड्डियों को मजबूत बनाने के लिए दही कैल्शियम का अच्छा स्रोत है. 

6- फैटी फिश- अगर आप नॉन वेजिटेरियन हैं तो आपको डाइट में फिश जरूर शामिल करनी चाहिए. महिलाओं को खाने में सैल्मन, सार्डिन और मैकेरल मछली जरूर खानी चाहिए. फिश में ओमेगा- 3 फैटी एसिड होता है. इससे आपकी त्वचा, हार्ट की बीमारियां, स्ट्रोक, हाइपरटेंशन, डिप्रेशन, ज्वाइंट पेन और इंफ्लेमेशन से जुड़ी समस्याएं कम होती हैं. फिश खाने से आप अल्जाइमर के खतरे से भी बचते हैं. 

7- सोयाबीन- महिलाओं को प्रोटीन से भरपूर डाइट लेनी चाहिए. आपको खाने में प्रोटीन, आयरन और विटामिन बी से भरपूर भोजन लेना चाहिए. सोया के बने प्रोडक्ट जैसे सोया मिल्क, टोफू महिलाओं के लिए बहुत फायदेमंद है. 

8- एवोकाडो- ये एक बहुत ही पौष्टिक फल है, एवोकाडो में भरपूर मात्रा में फाइबर, विटामिन, मिनरल और हेल्दी फैट पाया जाता है. महिलाओं के लिए एवोकाडो काफी फायदेमंद है. एवोकाडो में मोनोअनसैचुरेटेड फैट (MUFAs) होता है. एवोकाडो में फोलिक एसिड भरपूर होता है. जिससे शरीर में सूजन की समस्या भी कम होती है. एवोकाडो से हार्ट डिजीज, डायबिटीज, मेटाबॉलिक सिंड्रोम और कैंसर का खतरा भी कम हो सकता है.

9- आंवला- आंवला महिलाओं के लिए बहुत फायदेमंद है. आंवला में सबसे ज्यादा विटामिन सी होता है. रोजाना आंवला खाने से आपकी इम्यूनिटी स्ट्रॉग होती है. आंवला में विटामिन सी के अलावा पौटेशियम, कार्बोहाइड्रेट, विटामिन ए, बी, फाइबर, प्रोटीन, आयरन और मैग्नीशियम पाया जाता है. पेट के लिए भी आंवला काफी अच्छा है.

10- हरी सब्जियां- महिलाओं को हरी सब्जियों का भरपूर सेवन करना चाहिए. हरी सब्जियों में सभी जरूरी विटामिन्स पाए जाते हैं. पालक महिलाओं के लिए अच्छा सोर्स है. पालक में आपको प्रोटीन, आयरन, विटामिन बी, कैल्शियम और कई जरूरी मिनिरल्स मिल जाते हैं.

Disclaimer: इस आर्टिकल में बताई विधि, तरीक़ों व दावों की एबीपी न्यूज़ पुष्टि नहीं करता है. इनको केवल सुझाव के रूप में लें. इस तरह के किसी भी उपचार/दवा/डाइट पर अमल करने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लें.

ये भी पढ़ें: Weight Gain: वजन बढ़ाने के लिए अपनाएं ये लाइफस्टाइल, जानिए क्या खाएं क्या नहीं खाएं?

Check out below Health Tools-
Calculate Your Body Mass Index ( BMI )

Calculate The Age Through Age Calculator