आज का पंचांग: 16 सितंबर को दशमी की तिथि का होगा समापन, एकादशी की तिथि होगी आरंभ, जानें राहु काल

Aaj Ka Panchang, 16 September 2021: 16 सितंबर 2021, गुरुवार का दिन धार्मिक दृष्टि से महत्वपूर्ण है. पंचांग के अनुसार इस दिन भाद्रपद मास की शुक्ल पक्ष की दशमी तिथि है. विशेष बात ये है कि इसी दिन से एकादशी की तिथि भी प्रारंभ हो रही है. पंचांग के अनुसार जानते हैं शुभ मुहूर्त और आज का राहु काल.

आज की पूजा
भगवान विष्णु की पूजा- पंचांग के अनुसार 16 सितंबर 2021 को गुरुवार का दिन है. गुरुवार का दिन भगवान विष्णु की पूजा के लिए समर्पित है. इस दिन विष्णु भगवान की पूजा करने से भी प्रकार की मनोकामनाएं पूर्ण होती है. गुरुवार को एकादशी की तिथि लग रही है. एकादशी की तिथि लगते ही एकादशी का व्रत प्रारंभ हो जाता है.

गुरु ग्रह का उपाय- गुरुवार का दिन गुरु ग्रह के उपाय के लिए भी उत्तम है. वर्तमान समय में गुरु यानि बृहस्पति ग्रह मकर राशि में विराजमान है. जहां पर शनि देव पहले से ही गोचर कर रहे हैं. गुरु मकर राशि में शनि के साथ नीचभंग राज योग भी बना रहे हैं. गुरु को शुभ बनाने के लिए भगवान विष्णु की पूजा लाभकारी मानी गई है. गुरु शुभ होने पर ज्ञान, धन, और जॉब आदि में विशेष सफलता प्रदान करते हैं.

आज का राहु काल (Aaj Ka Rahu Kaal)
पंचांग के अनुसार 16 सितंबर 2021, गुरुवार को राहु काल दोपहर 01 बजकर 48 मिनट से दोपहर 03 बजकर 20 मिनट तक रहेगा. राहु काल में शुभ कार्य करना वर्जित माना गया है.

16 सितंबर 2021 पंचांग (Panchang 16 September 2021)
विक्रमी संवत्: 2078
मास पूर्णिमांत: भाद्रपद
पक्ष: शुक्ल
दिन: गुरूवार
तिथि: दशमी – 09:38:21 तक
नक्षत्र: उत्तराषाढ़ा – 28:09:09 तक
करण: गर – 09:38:21 तक, वणिज – 20:52:20 तक
योग: शोभन – 22:30:24 तक
सूर्योदय: 06:06:11 AM
सूर्यास्त: 18:25:37 PM
चन्द्रमा: धनु राशि – 10:43:26 तक
द्रिक ऋतु: शरद
राहुकाल: 13:48:19 से 15:20:45 तक (इस काल में कोई भी शुभ कार्य नहीं किया जाता है)
शुभ मुहूर्त का समय, अभिजीत मुहूर्त – 11:51:15 से 12:40:32 तक
दिशा शूल: दक्षिण
अशुभ मुहूर्त का समय –
दुष्टमुहूर्त: 10:12:39 से 11:01:57 तक, 15:08:26 से 15:57:43 तक
कुलिक: 10:12:39 से 11:01:57 तक
कालवेला / अर्द्धयाम: 16:47:01 से 17:36:19 तक
यमघण्ट: 06:55:28 से 07:44:46 तक
कंटक: 15:08:26 से 15:57:43 तक
यमगण्ड: 06:06:11 से 07:38:36 तक
गुलिक काल: 09:11:02 से 10:43:28 तक

यह भी पढ़ें:
Horoscope: 16 सितंबर को इन राशियों के स्वामी अपने ही घर में रहेंगे मौजूद, धन, जॉब, करियर, बिजनेस के साथ लव रिलेशन में देंगे लाभ ही लाभ

‘शनि’ के साथ ‘गुरु’ भी हैं वक्री, मकर राशि में गुरु-शनि की युति इन राशियों की बढ़ा सकती हैं परेशानी, भूलकर भी न करें ये काम

Rahu Transit 2022: राजा को रंक और रंक को राजा बनाने की क्षमता रखता है ‘राहु’, वृष राशि से निकल कर इस राशि की बढ़ाने जा रहा है मुश्किलें