शराब, भले ही अल्कोहल मुक्त हो, हो सकता है उसमें फायदा

लंबे समय से कहा गया है कि एक ग्लास शराब का सेवन डॉक्टर को दूर रखता है. लेकिन विशेषज्ञों का अब कहना है कि अल्कोहल मुक्त वर्जन भी आपको असली चीज का लाभ दे सकता है. एंजिला रस्किन यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने करीब 40 से 69 वर्षीय साढ़े चार लाख लोगों के डेटा का विश्लेषण किया और उनके स्वास्थ्य पर मध्यम अल्कोहल सेवन के प्रभाव को देखा. उन्होंने पाया कि एक सप्ताह में 11 ग्लास शराब पीनेवालों के बीच क्रोनोरी हार्ट रोग का जोखिम 40 फीसद कम हो गया. उतना ही जोखिम उन लोगों में कम पाया गया जिन्होंने नियमित अल्कोहल मुक्त वर्जन का सेवन किया. नतीजे बताते हैं कि ये फायदे शराब में अंगूर के कारण हैं. 

अल्कोहल मुक्त शराब दिल की सेहत के लिए अच्छी

डेली मेल ने रिपोर्ट की कि अल्कोहल नहीं, बल्कि शराब का फायदा अंगूर में एंटीऑक्सीडेंट्स से आता है. अंगूर पॉलीफेनोल्स नामक एंटीऑक्सीडेंट्स में अधिक होते हैं, जो हार्ट की इनर लाइनिंग के काम को ठीक कर सकता है और गुड कोलेस्ट्रोल लेवल को बढ़ा सकता है. दूसरी तरफ, बियर, साइडर, या स्प्रिट की मध्यम मात्रा के पीने का संबंध करीब 10 फीसद ज्यादा जोखिम के साथ जुड़ा हुआ था. यूनिवर्सिटी के डॉक्टर रूडोल्फ ने बताया ‘मेरा विश्वास है कि नतीजे धारणा को खारिज करते हैं कि अल्कोहल का मध्यम सेवन दिल की बीमारी के जोखिम को कम कर सकता है. 

प्रतिभागियों ने खुद से रिपोर्ट दी कि उन्होंने प्रति सप्ताह कितना बियर, साइडर, शराब, शैंपेन और स्प्रिट्स का सेवन किया. शोधकर्ताओं ने उनके स्वास्थ्य की मॉनिटरिंग सात वर्षों तक की, जिसमें कुल मृत्यु दर, दिल की समस्याएं, कैंसर और सेरेब्रोवास्कुलर रोग जैसे स्ट्रोक शामिल था. उन्होंने बताया कि जिन लोगों ने चार से पांच ग्लास शैंपेन या व्हाइट वाइन या 8 से 11 ग्लास रेड वाइन पी, उनको इस्केमिक हार्ट रोग का खतरा कम हो गया. लेकिन वही नतीजे अल्कोहल मुक्त शराब पीनेवालों पर भी लागू हुए. रूडोल्फ ने कहा कि रिसर्च ने ‘अविवादास्पद सुरक्षात्मक लाभकारी संबंध’ रेड वाइन और व्हाइट वाइन और दिल की बीमारी के बीच दिखाया. उन्होंने स्पष्ट किया कि ये संबंध अल्कोहल मुक्त वाइन के लिए भी देखा गया, इसलिए इससे पता चलता है कि अल्कोहल के बजाए शराब में मौजूद पॉलीफेनोल्स के कारण फायदे हैं. 

कम लेवल पर भी अल्कोहल पीना है नुकसानदेह

पॉलीफेनोल्स कई रिसर्च में सेहत के लिए मुफीद पाए गए हैं. रिसर्च से पता चला कि जिन लोगों ने बियर, साइडर और स्प्रिट की कम मात्रा का सेवन किया, उनमें दिल और सेरेब्रोवास्कुलर रोग, कैंसर और मौत का ज्यादा लेवल पाया गया. शोधकर्ताओं ने नोट किया कि उनके नतीजे इस ‘धारणा का समर्थन नहीं करते हैं किसी प्रकार के ड्रिंक का अल्कोहल सेहत के लिए फायदेमंद है’. ब्रिटेन में वर्तमान सिफारिश एक सप्ताह में 14 यूनिट अल्कोहल से ज्यादा नहीं पीने की है. डॉक्टर रूडोल्फ ने कहा कि अल्कोहल का पीना यहां तक कि कम लेवल पर भी सेहत के लिए हानिकारक हो सकता है. रिसर्च के नतीजे क्लीनिकल न्यूट्रिशन पत्रिका में प्रकाशित किए गए हैं. पूर्व के रिसर्च सिफारिश करते हैं कि प्रति सप्ताह तीन से सात दिनों तक अल्कोहल का पीना हार्ट अटैक होने के जोखिम को कम करता है. उन्होंने कहा कि लेकिन ये नहीं पीनेवालों के साथ गलत तुलना करते हैं या इस्तेमाल किए गए अल्कोहल के प्रकार पर विचार नहीं किया गया. 

महिलाओं को पुरुषों की तुलना में कोविड वैक्सीन के साइड-इफेक्ट्स का ज्यादा खतरा क्यों है? जानें

बच्चों में कोविड-19 के मामलों की बढ़ोतरी का क्या है संकेत? जानिए विशेषज्ञों की राय

Check out below Health Tools-
Calculate Your Body Mass Index ( BMI )

Calculate The Age Through Age Calculator