दिल्ली से पकड़े गए आतंकी का बड़ा खुलासा, ISI को दुबई में दी थी ये अहम जानकारियां

नई दिल्ली: राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली से पकड़े गए पाकिस्तानी आतंकी (Pakistani Terrorist) अशरफ उर्फ अली ने दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल (Delhi Police Special Cell) के सामने कई बड़े खुलासे किए है और बताया है कि उसने आईएसआई (ISI) के अधिकारियों को दिल्ली और जम्मू-कश्मीर के साथ ही भारत के कई राज्यों की जानकारियां दी थी.

2018 में थाईलैंड और दुबई गया था अशरफ

पूछताछ में अशरफ उर्फ अली ने बताया है कि वह भारतीय पासपोर्ट के सहारे साल 2018 में थाईलैंड और दुबई गया था, जहां पर उसकी मुलाकात आईएसआई (ISI) के सीनियर अफसरों से हुई थी. इसके बाद उसने आईएसआई अधिकारियों को दिल्ली और जम्मू-कश्मीर के साथ ही भारत के कई राज्यों की जानकारियां साझा की थी. इसके साथ ही आतंकी कई महत्वपूर्ण जगहों के फोटो और वीडियो के साथ इलाकों के नक्शे भी लेकर गया था. दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल (Delhi Police Special Cell) उसके इनपुट पर जांच कर रही है.

अधिकारियों ने 6 घंटे तक की पूछताछ

सूत्रों के मुताबिक स्पेशल सेल समेत आईबी, मिलिट्री इंटेलिजेंस, जम्मू-कश्मीर पुलिस और एनआईए के अधिकारियों ने 6 घंटे से ज्यादा अशरफ उर्फ अली से पूछताछ की है, जिसमें आतंकी ने कई धमाकों का जिक्र किया है. जम्मू के अधिकतर धमाकों में इसकी भूमिका रही है और जांच एजेंसियों को आशंका है कि इसकी गिरफ्तारी के बाद इसके साथी अंडरग्राउंड हो गए हैं ताकि पुलिस उन तक नहीं पहुंच सके.

ये भी पढ़ें- परमाणु बम का जनक, लेकिन ‘स्मगलिंग’ की सनक! कुछ ऐसी थी कदीर खान की कहानी

10 साल से भारत में था पाकिस्तानी आतंकी

दिल्ली पुलिस स्पेशल सेल के डीसीपी प्रमोद कुशवाहा ने मंगलवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर मोहम्मद अशरफ को लेकर पूरी जानकारी दी थी. उन्होंने अशरफ को लेकर बड़ी जानकारियां साझा करते हुए बताया था कि वो पिछले 10 से भी ज्यादा सालों से भारत में रहकर आतंकियों की स्लिपर सेल की तरह काम कर रहा था. उन्होंने बताया, ‘अशरफ एक दशक से भी ज्यादा वक्त से दिल्ली में रह रहा था. वो यहां एक भारतीय के रूप में रह रहा था. उसने अहमद नूरी के फर्जी नाम से कई तरह के पहचान पत्र बना लिए हैं.’ पुलिस के मुताबिक पूछताछ में आतंकी ने कबूल किया है कि वो अतीत में जम्मू-कश्मीर और देश के अन्य इलाकों में कई आतंकी घटनाओं में शामिल रहा है.

दावते इस्लामिक का सक्रिय सदस्य है अशरफ

बता दें कि आतंकी अशरफ अली पाकिस्तान की कट्टरपंथी संस्था दावत-ए-इस्लामी (Dawat-e-Islami) का सक्रिय सदस्य है और दिल्ली के शास्त्री नगर के पत्ते पर बनवाए गए फर्जी पासपोर्ट से संस्था की कॉन्फ्रेंस में शामिल होने के लिए नेपाल, थाइलैंड और साउदी अरब गया था. भारत में वो संस्था के कार्यक्रमों में चेन्नई, आंध्रप्रदेश, मध्यप्रदेश और यूपी समेत कई राज्यों में जा चुका है. ये संस्था के कार्यक्रमों में तकरीर देता था. आशंका है कि ये धर्म परिवर्तन करवाने में लगा हुआ था और स्पेशल सेल ने धर्म परिवर्तन के मामले को गंभीरता से लेते हुए गहराई से पूछताछ कर रही है.

लाइव टीवी