ISI ने बनाया त्‍योहारों के लिए भयानक प्लान, मंदिरों और भीड़-भाड़ वाली जगहों पर हमले की तैयारी

नई दिल्ली: पाकिस्तान (Pakistan) की खुफिया एजेंसी आईएसआई (ISI) त्योहारों पर घाटी के हिंदू मंदिरों को निशाना बनाने का बड़ा प्लान बना रही है. कश्मीर में हिंदू मंदिरों और भीड़-भाड़ वाली जगहों पर हमले की तैयारी के साथ ही खुफिया सूत्रों को जानकारी मिली है कि राजनीतिक व्यक्तियों को निशाना बनाने की साजिश भी रची जा रही है. इनपुट के मुताबिक यूपी और बिहार से अपराधियों को इस काम के लिए इस्तेमाल करने की योजना बनाई जा रही है. आतंकियों के निशाने पर शोपियां में सेब खरीदने गए हिंदू व्यापारी भी हो सकते हैं.

एंटी टेरर ऑपरेशन तेज 

इस बीच जम्मू कश्मीर में पिछले दिनों हुई आतंकी घटनाओं के बाद सुरक्षाबलों ने एक बार फिर एंटी टेरर ऑपरेशन तेज कर दिया है और आतंक का नेटवर्क खत्म करने के लिए कार्रवाई की जा रही है. पिछले 36 घंटे में 5 मुठभेड़ों में सुरक्षाबलों ने 7 आतंकवादियों को मार गिराया है, वहीं इस दौरान सेना के 5 जवान शहीद हुए हैं. पुलिस ने दावा किया है कि उसने दो टार्गेट हत्याओं के मामलों को सुलझा लिया है.

अनंतनाग में एक आतंकवादी ढेर

शोपियां जिले के फेरीपोरा में हुई ताजा मुठभेड़ में दो अज्ञात आतंकवादी मारे गए. पिछले 36 घंटों में कश्मीर में यह चौथी और पांचवीं मुठभेड़ थी. इससे पहले कल (11 अक्टूबर) कश्मीर में तीन मुठभेड़ हुई थी. पहली मुठभेड़ अनंतनाग जिले के वीरिनाग इलाके में हुई, जहां पुलिस ने दावा किया कि एक आतंकवादी को मार गिराया है. इसके साथ ही एक पिस्तौल और एक ग्रेनेड बरामद किया है.

बांदीपोरा में एक आतंकी मारा गया

जब अनंतनाग में तलाशी चल रहा था, बांदीपोरा जिले के हाजिन इलाके में उत्तरी कश्मीर में एक और मुठभेड़ हुई. पुलिस ने बताया कि उन्होंने टीआरएफ के एक आतंकवादी को मार गिराया और हथियार के अलावा गोला-बारूद भी बरामद किया.  इधर पुलिस ने यह भी दावा किया कि बांदीपोरा के मोहम्मद शफी लोन की हत्या के मामले को सुलझा लिया गया है, जो 5 अक्टूबर की शाम को मारा गया था. पुलिस आईजीपी ने कहा कि मारा गया आतंकवादी वही था, जिसने मोहम्मद शफी लोन को मारा था.

यह भी पढ़ें: दिल्ली में AK-47 के साथ पकड़ा गया आंतकी, स्लीपर सेल की तरह कर रहा था काम

आतंक के खिलाफ एनआईए की कार्रवाई

जम्मू कश्मीर में एनआईए (NIA) की छापेमारी भी जारी है. कश्मीर में पिछले तीन दिनों में 30 से अधिक स्थानों पर एनआईए ने छापेमारी की है और एक प्रेस विज्ञप्ति में कहा कि उन्होंने दो टीआरएफ कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया है, जबकि आपत्तिजनक सामग्री भी बरामद की है.जम्मू-कश्मीर पुलिस ने भी श्रीनगर शहर के संवेदनशील इलाकों को हाई अलर्ट पर रखा था. पिछले 5 दिनों में सैकड़ों लोगों से पूछताछ की गई है और कई को हिरासत में भी लिया गया है.

LIVE TV