UP में चुनाव लड़ने की JDU की तैयारी, लखनऊ में हो सकती है राष्ट्रीय कार्यकारिणी की अगली बैठक

Uttar Pradesh Election: उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में जेडीयू मज़बूती से चुनाव लड़ने की तैयारी कर रही है. ये कहना है पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह का. हालांकि ललन सिंह ने साफ किया कि पार्टी बीजेपी के साथ गठबंधन में चुनाव लड़ना चाहती है, लेकिन अगर गठबंधन पर बात नहीं बनी तो पार्टी अकेले चुनाव लड़ेगी. 

उत्तर प्रदेश चुनाव में अपनी सरकार बचाने की मुहिम में लगी बीजेपी को बिहार की अपनी सहयोगी से भी मुक़ाबला करना पड़ सकता है. एनडीए में बीजेपी की सहयोगी जेडीयू ने ऐलान किया है कि पार्टी उत्तर प्रदेश में चुनाव लड़ने का फैसला कर चुकी है. पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह ने कहा है कि पार्टी उत्तर प्रदेश में बीजेपी के साथ गठबंधन में चुनाव लड़ना चाहती है और इसके लिए बीजेपी से बातचीत भी चल रही है. हालांकि उन्होंने साफ किया कि चुनाव में गठबंधन को लेकर अगर बीजेपी से बात नहीं बनती है तो पार्टी अकेले चुनाव मैदान में उतरेगी. 

पार्टी सूत्रों ने एबीपी न्यूज़ को बताया कि अगर बीजेपी से बात नहीं बनती है तो पार्टी अच्छी खासी सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारेगी. हालांकि सूत्रों ने ये भी साफ़ किया कि बीजेपी से बात नहीं बनने की स्थिति में पार्टी किसी अन्य पार्टी के साथ गठबंधन नहीं करेगी. वहीं, पार्टी ने उत्तर प्रदेश के साथ होने वाले मणिपुर विधानसभा चुनाव में भी अपने उम्मीदवार उतारने का फैसला किया है. योगी आदित्यनाथ के अब्बाजान वाले बयान पर पार्टी अध्यक्ष ने कहा कि भाषा मर्यादित होनी चाहिए और ये देश हर धर्म के लोगों का है. 

लखनऊ में होगी जेडीयू राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक

उत्तर प्रदेश प्रदेश में अपनी चुनावी तैयारियों के मद्देनज़र पार्टी ने अपनी अगली राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक लखनऊ में ही करने का फैसला किया है. बैठक के इस साल नवम्बर में आयोजित किए जाने की संभावना है. पार्टी सूत्रों ने बताया कि मणिपुर की चुनावी तैयारियों के तहत पार्टी के राष्ट्रीय पदाधिकारियों की बैठक राजधानी इम्फाल में आयोजित किए जाने की भी योजना बनाई जा रही है. ये बैठक लखनऊ में होने वाली प्रस्तावित राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक के बाद हो सकती है. 

एनडीए में मज़बूती से बने रहेंगे: ललन सिंह

ललन सिंह ने बताया कि 25 सितम्बर को हरियाणा के जींद के चौधरी देवीलाल की जयंती पर आयोजित रैली में नीतीश कुमार शामिल नहीं होंगे. उनकी जगह पार्टी की ओर से पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव के सी त्यागी शिरकत करेंगे. ललन सिंह ने कहा कि कोरोना की सम्भावित तीसरी लहर और राज्य के कुछ इलाकों में आई बाढ़ के चलते नीतीश कुमार रैली में शामिल नहीं होंगे. वहीं रैली के बहाने तीसरे मोर्चे की खबरों को खारिज करते हुए ललन सिंह ने कहा कि जेडीयू मजबूती से एनडीए का हिस्सा है और आगे भी रहेगी. 

महाराष्ट्र: दूसरे राज्य के लोगों का रजिस्टर रखने के उद्धव ठाकरे के निर्देश पर राजनीति गरम, बीजेपी ने समाज को तोड़ने वाला बताया

‘आप काले कोट में हैं, इसका मतलब यह नहीं कि आपकी जान ज्यादा कीमती है’ -सुप्रीम कोर्ट