बीजेपी उम्मीदवार प्रियंका टिबरेवाल ने दाखिल किया नामांकन, सोला आना मस्जिद पहुंचीं सीएम ममता

West Bengal Bypolls: टीएमसी सुप्रीमो और पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) सोमवार को भवानीपुर के सोला आना मस्जिद पहुंचीं. वे अचानक वहां पहुंची और वहां रुकीं. सीएम ममता ने अपने सिर को ढंका हुआ था. वहां मौजूद लोग अपने मोबाइल में वीडियो रिकॉर्ड करने लगे. बता दें कि भवानीपुर (Bhabanipur) सहित पश्चिम बंगाल की तीन विधानसभा सीटों पर 30 सितंबर को उपचुनाव होने हैं. ममता, भवानीपुर से टीएमसी की उम्मीदवार हैं. बीजेपी की तरफ से प्रियंका टिबरेवाल (Priyanka Tibrewal) मैदान में हैं.

बीजेपी उम्मीदवार ने दाखिल किया नामांकन

भवानीपुर में 30 सितंबर को मतदान होगा और परिणाम 3 अक्टूबर को घोषित किया जाएगा. सीपीएम ने इस सीट से वकील श्रीजीब विश्वास को मैदान में उतारा है, जबकि कांग्रेस उपचुनाव में हिस्सा नहीं ले रही है. बीजेपी की तरफ से प्रियंका टिबरेवाल मैदान में हैं. टिबरेवाल एक वकील भी हैं. उन्होंने अलीपुर स्थित सर्वे भवन में अपना नामांकन दाखिल किया. उनके साथ विधानसभा में नेता विपक्ष शुभेंदु अधिकारी और बीजेपी सांसद अर्जुन सिंह समेत पार्टी के अन्य वरिष्ठ नेता मौजूद थे.

अमित मालवीय ने ममता बनर्जी पर साधा निशाना

बीजेपी के IT डिपार्टमेंट के नेशनल इंचार्ज अमित मालवीय ने ममता बनर्जी के मस्जिद पहुंचने को लेकर उन्हें निशाने पर लिया. उन्होंने ट्वीट किया, “अगर आपको लगता है कि भवानीपुर में ‘कोई मुकाबला नहीं’ था और ममता बनर्जी को जीत का भरोसा था, तो इसे भूल जाइए. उन्हें पसीना आ रहा है. सोला आना मस्जिद का यह दौरा ‘अचानक’ नहीं है, बल्कि वार्ड 77 से वोट मांगने के लिए एक योजनाबद्ध यात्रा है. अगले कुछ दिनों में, वह बूथ से बूथ तक पहुंचेंगी.”

शुभेंदु अधिकारी से चुनाव हार गई थीं ममता बनर्जी

पिछले विधानसभा चुनाव में भवानीपुर विधानसभा सीट जीतने वाले तृणमूल कांग्रेस के सोवनदेब चट्टोपाध्याय ने ममता बनर्जी को इस सीट से चुनाव लड़वाने के लिए इस्तीफा दे दिया था, जिससे निर्वाचन आयोग को उपचुनाव की घोषणा करनी पड़ी. ममता बनर्जी नंदीग्राम से बीजेपी के शुभेंदु अधिकारी से चुनाव हार गई थीं और उन्हें मुख्यमंत्री पद बरकरार रखने के लिए पांच नवंबर तक निर्वाचित होना होगा.

West Bengal News: शुभेंदु अधिकारी ने इन दो विधायकों को अयोग्य घोषित करने की मांग की, विधानसभा स्पीकर को लिखी चिट्ठी

पश्चिम बंगाल के जलपाईगुड़ी में इन्फ्लुएंजा जैसी बीमारी, अब तक करीब 150 बच्चे अस्पताल में भर्ती