इस बीमारी के चलते खत्म हो गया महिला क्रिकेट की ‘धोनी’ का करियर, 30 साल की उम्र में लेना पड़ा संन्यास, जानिए लक्षण

भूपेंद्र राय/ Stress symptoms and treatment: आज की भागदौड़ भरी जिंदगी में तनाव एक आम समस्या बन चुका है. छोटे से लेकर बड़े तक हर तीसरा व्यक्ति इस समस्या से जूझ रहा है. इस तनाव की वजह से एक स्टार महिला क्रिकेटर को संन्यास लेना पड़ा था. नाम है सारा टेलर. इग्लैंड की पूर्व विकेटकीपर बल्लेबाज सारा टेलर ने सितंबर 2019 में अचानक 30 साल की उम्र में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेकर सारा टेलर ने अपने फैंस को झटका दिया था. वजह बताई थी तनाव. 

तनाव एक ऐसी समस्या है, जो शारीरिक रूप से कमजोर करने के साथ-साथ भावनात्मक रूप से भी आहत करती है.  संन्यास लेते वक्त सारा टेलर ने भी कहा था कि ‘मेरा 2006 में सपना सच हुआ और मैंने सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों के साथ जो हासिल किया, उस पर मुझे गर्व है. यह मेरे और मेरे स्वास्थ्य के लिहाज से संन्यास लेने का सही समय है, लेकिन मैंने इंग्लैंड की तरफ से खेलते हुए हर पल का आनंद लिया. इस खबर में हम नीचे जानेंगे तनाव के लक्षण, कारण और इलाज…

तनाव क्या है?
यूं तो इंसान का उदास या निराश होना स्वाभाविक है, लेकिन जब ये एहसास काफी लंबे समय तक बना रहे तो समझ जाइए कि वो तनाव की स्थिति में है. यह एक ऐसा मानसिक विकार है, जिसमें व्यक्ति को कुछ भी अच्छा नहीं लगता. उसे अपना जीवन नीरस, खाली-खाली और दुखों से भरा लगता है. हर व्यक्ति को अलग-अलग कारणों  से तनाव हो सकता है. तनाव में रहने वाले अधिकतर लोग आत्महत्या की ओर कदम बढ़ा लेते हैं.

तनाव के सामान्य लक्षण (common symptoms of stress)

  • सिर और पीठ में दर्द
  • अचानक वजन कम होना
  • तेजी से बजन बढ़ना
  • याददाश्त की कमी
  • हमेशा चिंता में रहा
  • चिड़चिड़ापन और उदासी
  • दांत और जबड़े पीसना
  • शरीर में थरथराहट होना

तनाव के सामान्य कारण (common causes of stress)
मानसिक तनाव या स्ट्रेस हर किसी के लिए अलग होता है. आपको जिस वजह से तनाव होता है, जरुरी नहीं कि किसी और को भी उससे तनाव हो, लेकिन तनाव के कई कारणों का आपके स्वास्थ्य पर नकारात्मक प्रभाव पड़ सकता है, नीचे जानिए उनके बारे में…

  1. काम का प्रेशर
  2. नौकरी खो देना
  3. आपसी रिश्ते की समस्या
  4. ब्रेकअप या तलाक
  5. परिवार में मौत
  6. पढाई, करियर या आर्थिक कठिनाई
  7. पारिवारिक समस्याएं

कैसे पता चलेगा आप तनाव में हैं?
myupchar
के अनुसार, जब आप तनाव लेते हैं तो तनाव आपके दिल की धड़कन को तेज कर सकता है, श्वसन दर बढ़ सकती है, और पसीना आ सकता है. इसके साथ ही आपको फील होगा कि आप पर कोई हमला कर रहा हो. 

तनाव से होने वाली समस्याएं और बीमारियां (Stress problems and diseases)
हेल्थ एक्सपर्ट्स कहते हैं कि हर व्यक्ति किसी ना किसी तरह की चिंता से हमेशा ही घिरा रहता है. कुछ हद तक तनाव होना स्वाभाविक भी है, लेकिन जब यही तनाव बढ़ने लगता है तो इससे व्यक्ति को एंग्जाइटी, अवसाद व अन्य कई गंभीर समस्याओं का सामना करना पड़ता है. मोटापा और डायबिटीज की आशंका बढ़ जाती है. इसके अलावा मांसपेशियों में ऐंठन, गर्दन में दर्द और पीठ दर्द की समस्या बढ़ सकती है. तनाव के कारण चक्कर आना, हल्का सिरदर्द व बेहोशी भी हो सकती है. 

तनाव कैसे दूर करें (how to relieve stress)

  1. अपने दोस्तों या परिवार से अपने मन की चिंताएं साझा करें
  2. अपने लिए समय निकालें.
  3. सुबह उठकर व्यायाम करें
  4. शराब, ड्रग्स और कैफीन का सेवन कम करें
  5. हेल्दी डाइट फॉलो करें
  6. पसंद वाले काम करें
  7. लोगों से बातचीत करें

सारा के नाम है धोनी से बड़ा रिकार्ड
भारत के खिलाफ 17 साल की उम्र में वनडे में डेब्यू करने वाली इंग्लैंड की महिला क्रिकेटर सारा टेलर (arah taylor) के नाम अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 51 स्टंपिंग करने का रिकॉर्ड है, जबकि भारत के दिग्गज क्रिकेटर धोनी 98 अंतरराष्ट्रीय टी20 मुकाबलों में केवल 34 ही स्टंपिंग कर सके थे. सारा ने 2006 में डेब्यू किया और 2019 में अंरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लिया.

सारा टेलर का क्रिकेट करियर
सारा टेलर वनडे और टी20 दोनों में विकेट के पीछे शिकार करने के मामले में दूसरे नंबर पर हैं. उन्होंने 126 वनडे में विकेट के पीछे 136 शिकार किए. इसमें 85 स्टम्पिंग और 51 कैच हैं. उनसे आगे दक्षिण अफ्रीका की त्रिषा चेट्टी हैं. उन्होंने 116 वनडे में 163 शिकार किए हैं. 30 वर्षीय टेलर ने इंग्लैंड के लिए 226 मैच खेले और कुल 6,533 रन बनाए. सारा को महिला क्रिकेट टीम की धोनी भी कहा जाता है. 

ये भी पढ़ें; प्रियंका चोपड़ा के पति Nick को है ये बीमारी, डॉक्टर के पास नहीं है इलाज, ऐसा था PeeCee का रिएक्शन!

यहां दी गई जानकारी किसी भी चिकित्सीय सलाह का विकल्प नहीं है. यह सिर्फ शिक्षित करने के उद्देश्य से दी जा रही है.​