Scalp Scrubbing Benefits: क्या आप ने की है स्कैल्प स्क्रबिंग, ये फायदा चौंका देगा!

Scrub Scalp : फेस स्क्रबिंग के बारे में सभी ने सुना होगा और करवाया भी होगा. लेकिन क्या आप ने स्कैल्प स्क्रबिंग के बारे में सुना है. जी हां, स्कैल्प स्क्रबिंग (Scalp Scrubbing) एक बेहतरीन तरीका है, जो सिर की गंदगी को साफ कर देता है. ऑयली स्कैल्प वाले लोगों के सिर में गंदगी और धूल-मिट्टी जम जाती है और बाल धोने के बाद अगले दिन ही बाल गंदे लगने लगते हैं. ऐसे लोगों के लिए स्कैल्प स्क्रबिंग फायदेमंद साबित होती हैं.

आइए जानते हैं कि स्कैल्प स्क्रबिंग क्या है और इससे क्या-क्या फायदे (Scalp Scrubbing Benefits) मिलते हैं.

ये भी पढ़ें: Tanning Treatment : ये है टैनिंग हटाने का दमदार तरीका, उभरकर आता है निखार

स्कैल्प स्क्रबिंग क्या है? (What is Scalp Scrubbing?)
स्कैल्प स्क्रबिंग का मतलब स्कैल्प एक्सफोलिएशन भी होता है. जिसकी मदद से स्कैल्प यानी सिर की त्वचा से डेड सेल्स को निकाला जाता है और ऑयली स्कैल्प की समस्या दूर हो जाती है. स्कैल्प स्क्रबिंग एक आसान तरीका है, जिससे सिर की त्वचा को ऑयल से छुटकारा मिलता है और सही नमी मिलती है.

ऑयली स्कैल्प के लिए घर पर कैसे करें स्कैल्प स्क्रबिंग (how to scrub scalp at home)
नींबू का रस, ऑलिव ऑयल और सी साल्ट को बराबर मात्रा में एक कटोरी में मिला लें. अब अपने सिर की त्वचा को थोड़ा गीला कर लें और उसपर इस मिक्सचर को करीब 5 मिनट तक रब करें. अब स्कैल्प को अच्छी तरह धोएं और फिर अपने रेगुलर शैंपू और कंडीशनर से सिर को धोएं.

ये भी पढ़ें: Best way to clean face : 2 मिनट में चेहरे को साफ करने का बेस्ट तरीका, ब्लैकहेड्स और तेल का होगा सफाया

स्कैल्प स्क्रबिंग करने के फायदे (Scalp Scrubbing Benefits)
स्कैल्प स्क्रबिंग हफ्ते में दो बार की जा सकती है. हर प्रकार की स्कैल्प के लिए इसे इस्तेमाल किया जा सकता है. बस आपको सामग्री में बदलाव करना होता है. स्कैल्प स्क्रबिंग से निम्नलिखित फायदे मिलते हैं. जैसे-

  1. सिर की त्वचा से डेड सेल्स को हटाता है.
  2. हेयर क्वालिटी सुधरती है.
  3. सिर की त्वचा से अतिरिक्त तेल हटता है.
  4. स्कैल्प पर खुजली, जलन, डैंड्रफ व बाल झड़ने की समस्या दूर होती है.
  5. सिर की त्वचा में ब्लड सर्कुलेशन तेज होता है. जिससे हेयर ग्रोथ बढ़ती है और बालों को पोषण मिलता है.

यहां दी गई जानकारी किसी भी चिकित्सीय सलाह का विकल्प नहीं है. यह सिर्फ शिक्षित करने के उद्देश्य से दी गई है.