छत्तीसगढ़ में बढ़ा कोरोना का ग्राफ, राज्य सरकार ने कर्मचारियों को दिया ये बड़ा आदेश

Corona Impact in Chhattisgarh: छत्तीसगढ़ में बढ़ते कोरोना संक्रमण के कारण मंत्रालय का काम भी अब प्रभावित होने लगा है. राज्य सरकार ने मंत्रालय के सभी अधिकारी और कर्मचारियों को ‘वर्क फ्रॉम होम’ करने का आदेश दिया है. मंगलवार को मंत्रालय और सभी विभागाध्यक्षों के कार्य संचालन को लेकर सामान्य प्रशासन विभाग ने आदेश जारी कर दिया है. कोरोना की स्थिति को देखते हुए सेक्रेटरी इंचार्ज और विभागाध्यक्ष वर्क फ्राॅम होम कर सकते हैं.

 

इसके अलावा जिन कर्मचारियों की ड्यूटी नहीं हैं, वे कर्मचारी वर्क फ्राॅम होम काम कर सकेंगे. साथ ही ऐसे अधिकारी जिन्हें कोविड-19 से संबंधित कोई असुविधा हो, जिससे वे कार्यालय आने में असमर्थ हो तो वे भी वर्क फ्राॅम होम कर सकते हैं. सभी अधिकारी और कर्मचारी बिना पूर्वानुमति के मुख्यालय नहीं छोड़ेंगे और मोबाइल के माध्यम से हमेशा संबंधित अधिकारियों से संपर्क में रहेंगे. साथ ही आवश्यकता पड़ने पर मंत्रालय या संचालनालय में कार्य पूरा करने के लिए बुलाया भी जा सकता है.

 

24 घंटे में बदला सामान्य प्रशासन विभाग का आदेश

 

गौरतलब है कि बढ़ते कोरोना संक्रमण की वजह से एक दिन पहले ही सामान्य प्रशासन विभाग ने मंत्रालय और सभी विभागाध्यक्ष कार्यालयों में तृतीय-चतुर्थ श्रेणी के एक तिहाई कर्मचारियों को हर दिन बुलाए जाने का आदेश दिया था. इसके लिए विभागों के द्वारा रोस्टर बनाकर अधिकारियों की ड्यूटी लगाई जानी थी और आम नागरिकों के प्रवेश को पूरी तरह प्रतिबंधित कर दिया गया था, लेकिन 24 घंटे बाद सामान्य प्रशासन विभाग ने नया आदेश जारी कर वर्क फ्रॉम होम का निर्देश दिया है.

 

राज्य में तेजी से बढ़ रहा है कोरोना का ग्राफ

 

छत्तीसगढ़ में कोरोना ग्राफ तेजी से बढ़ रहा रहा है. पिछले 24 घंटे में 4,120 नए कोरोना के मरीज मिले हैं और चार कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत हो गई है. बीजेपी नेता ओपी चौधरी की कोरोना रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है. वहीं सोमवार को कोरोना के सबस् ज्यादा मामले राजधानी रायपुर में मिले, जहां 1,185 संक्रमितों की पहचान हुई है. इसके बाद राज्य में अब एक्टिव मरीजों की संख्या बढ़कर 19 हजार 222 हो गई है.

 

ये भी पढ़ें-