टीएस सिंहदेव समेत चार लोगों की रिपोर्ट में ओमिक्रोन की पुष्टि, सभी हो चुके हैं स्वस्थ

Chhattisgarh Corona Update: छत्तीसगढ़ के स्वास्थय मंत्री टी एस सिंहदेव समेत 4 लोगों में ओमिक्रोन की पुष्टि हुई है. इसकी जानकारी राज्य स्वास्थ्य मंत्री टी एस सिंहदेव ने खुद दी है. मंगलवार को राजधानी रायपुर में चार मरीजों की रिपोर्ट ओमिक्रोन पॉजीटिव आई है. इसमें दो UAE से लौटने के बाद कोरोना पॉजीटिव हुए थे. इसके बाद ओमिक्रॉन जांच के लिए सैंपल उड़ीसा भेजा गया था. लेकिन राहत की बात ये है कि रिपोर्ट आने से पहले चारों मरीज स्वस्थ हो गए है.

दरअसल पिछले डेढ़ महीने में छत्तीसगढ़ में हजारों की संख्या में विदेश लौटने वाले नागरिकों की पहचाना हुई है. इसमें से कई लोग कोरोना संक्रमित पाए गए थे. इसके बाद स्वास्थ्य विभाग ने जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए ओडिशा राज्य के भुवनेश्वर भेजा था. इसकी रिपोर्ट आज आई है. सीएमएचओ डॉ. मीरा बघेल ने बताया कि चारों मरीज स्वस्थ है और ठीक हो चुके हैं, इसमें एक स्वास्थ्य विभाग का कर्मचारी था. इससे पहले 5 जनवरी को छत्तीसगढ़ में पहले ओमिक्रोन पॉजीटिव मरीज की पहचान हुई थी. स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने बताया कि बिलासपुर जिले में पहला मरीज मिला था. ये भी UAE से लौटने के बाद आरटी-पीसीआर जांच में कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी. वहीं अब राज्य में ओमिक्रोन संक्रामित मरीजों की संख्या 5 हो गई है.

200 गुना ज्यादा रफ्तार से बढ़ रहे नए केस

बढ़ते कोरोना संक्रमण और कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रोन के खतरे पर स्वास्थ्य मंत्री टी एस सिंहदेव ने बताया कि मेरी भी रिपोर्ट में ओमिक्रोन की पुष्टि हुई है. कोरोना की तीसरी लहर चल रही है, इसमें संख्या बढ़ रही है, 200 गुना ज्यादा केस बढ़ रहे हैं, अस्पताल में भर्ती होने वालों की संख्या कम है, ज्यादा लोगों को अस्पताल की जरूरत नहीं पड़ रही है. इस बार लोग प्राभावित तो हो रहे हैं लेकिन गंभीर लक्षण नहीं दिख रहे हैं. फिलहाल स्वास्थय मंत्री की कोरोना रिपोर्ट नेगेटिव आ चुकी है अब वो पहले से स्‍वस्‍थ हैं.

हर जिले से 5 प्रतिशत सैंपल जीनोम सीक्वेंसिंग के लिया भेजा जाता है

स्वास्थ्य विभाग कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रोन की पहचान के लिए हर जिले से कोरोना पॉजीटिव पाए गए कुल मरीजों में से 5 प्रतिशत सैंपल जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए भुवनेश्वर भेजता है. इसमें ओमिक्रोन प्रभावित राज्यों से आने वाले नागरिकों की रिपोर्ट अनिवार्य रूप से भेजी जाती है.

ये भी पढ़ें- 

खबर का असर: पटना SSP ने ‘बदतमीज’ थानेदार पर कार्रवाई की कही बात, ASP काम्या मिश्रा से मांगी रिपोर्ट

UP Election 2022: यूपी के कुशीनगर में हुआ कितना विकास? जिले की 7 सीटों पर जीत का दावा ठोक रही बीजेपी और सपा