अमेरिका ने जर्मनी-डेनमार्क की यात्रा पर लगाई रोक, कोरोना संक्रमण को लेकर अलर्ट जारी

‘Do Not Travel’ COVID-19 Warning: कोविड के बढ़ते मामलों को देखते हुए यूएस सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (सीडीसी) और विदेश विभाग ने सोमवार को जर्मनी और डेनमार्क की यात्रा न करने की सलाह दी है. उन देशों में सीओवीआईडी ​​​​-19 मामलों की संख्या बढ़ रही है. इस सूची में ऑस्ट्रिया, ब्रिटेन, बेल्जियम, ग्रीस, नॉर्वे, स्विटजरलैंड, रोमानिया, आयरलैंड और चेक गणराज्य सहित कई यूरोपीय देश शामिल हैं. वहीं दो यूरोपीय देशों को लेवल-4 वेरी हाई की श्रेणी में रखा है.

जर्मनी में संक्रमण के बढ़ते मामलों पर चिंता जताते हुए चांसलर एंजेला मर्केल ने कंजर्वेटिव पार्टी के नेताओं से कहा कि कोरोना संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए किए गए उपाय पर्याप्त हैं. इसपर सख्त उपाय करने की जरूरत है. बता दें कि जर्मनी में वे बुजर्ग भी कोरोना की चपेट की आ रहे हैं, जो वैक्सीनेटेड हैं. इसके साथ ही बच्चे भी इस बार सॉफ्ट टारगेट बन रहे हैं. विश्व स्वास्थ्य संगठन (World Health Organization) ने कहा कि यूरोपीय देशों को कोरोना वायरस संक्रमण को रोकने के लिए सतर्क होने की जरूरत है.

डब्ल्यूएचओ के हंस क्लूज ने चेतावनी दी है कि 53 यूरोपीय देशों में मौजूदा स्थिति गंभीर है, जो डेल्टा वेरिएंट के प्रसार की वजह से है. यह गंभीर चिंता का विषय है. उन्होंने आगे कहा कि कोरोना के प्रसार को रोकने के लिए हमें अपनी रणनीति बदलने की जरूरत है. कोविड-19 के मामलों को लेकर जर्मनी में अस्पताल कोविड मरीजों से भर रहे हैं, उनके प्रसार को रोकना होगा. इसके लिए ठोस कदम उठाना होगा.

ऑस्ट्रिया ने पिछले सप्ताह कुछ नए प्रतिबंधों की घोषणा की थी. वहां सोमवार को पूरा लॉकडाउन लगाया गया था. जर्मनी इसका अनुसरण कर सकता है. बता दें कि 11 मार्च 2020 को WHO ने इसकी भयावहता को देखते हुए इसे महामारी घोषित किया था. महामारी की शुरुआत से अमेरिका की हालत सबसे खराब है. यहां अब तक कुल 47,730,591 कोरोना के चपेट में आ चुके हैं और 771,118 की मौत हो चुकी है.

ये भी पढ़ें

Coronavirus Cases Today: देश में पिछले 24 घंटों में कोरोना के 8 हजार 488 नए केस दर्ज, 538 दिनों बाद सबसे कम

Singapore India flights: सिंगापुर और भारत के बीच यात्री उड़ाने होंगी बहाल, दोनों देशों के बीच बनी सहमति