169% का फायदा: 530 रुपए पर लिस्ट हुआ लेटेंट व्यू का शेयर, 7.27% गिरावट के साथ 491 पर पहुंचा स्टॉक

  • Hindi News
  • Business
  • Listing Of Latent View, Paytm, Paras Defence, Go Faishion, Tarson, Initial Public Offering, IPO, Share Price Paytm, Latent Vier Share Price

मुंबई18 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

भारतीय बाजार के इतिहास में अब तक सबसे ज्यादा सब्सक्राइब होने वाले लेटेंट व्यू के शेयर्स की आज लिस्टिंग हो गई। यह बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज पर 169% के प्रीमियम के साथ 530 रुपए पर लिस्ट हुआ। यानी निवेशकों को इश्यू प्राइस की तुलना में इतना फायदा हुआ है। हालांकि बाजार की गिरावट का असर शेयर पर दिखा। यह पहले ही मिनट में 7.27% गिरावट के साथ 491 पर पहुंच गया। हालांकि यह एक बार 462 रुपए तक चला गया था।

360 रुपए का प्रीमियम चल रहा था

लेटेंट व्यू का भाव ग्रे मार्केट में 360 से 370 रुपए प्रीमियम पर चल रहा था। 190 से 197 रुपए के भाव पर इसने IPO लाया था। हालांकि बाजार की कल बड़ी गिरावट ने सारे माहौल खराब कर दिए हैं। इस गिरावट से आने वाले कई IPO टल गए हैं। क्योंकि उनका वैल्यूएशन कम हो गया है। साथ ही सब्सक्रिप्शन में उनको कम रिस्पांस मिल सकता है। मोबिक्विक अपने इश्यू को आगे टाल रही है। पेटीएम के शेयर्स की लगातार पिटाई ने IPO बाजार को पूरी तरह से खराब कर दिया है। दो दिनों में पेटीएम के शेयर्स में 39% की गिरावट आई है।

326 गुना रिस्पांस मिला था

लेटेंट व्यू के इश्यू को 326 गुना रिस्पांस मिला था। IPO 12 नवंबर को बंद हुआ था। इसमें नॉन इंस्टीट्यूशनल (NII) का हिस्सा 850 गुना भरा। जबकि रिटेल का हिस्सा 119 गुना भरा। रिटेल के सब्सक्रिप्शन में भी इसने इतिहास रच दिया है। इससे पहले पारस डिफेंस में रिटेल निवेशकों का हिस्सा 112 गुना भरा था।

10 नवंबर को खुला था इश्यू

लेटेंट व्यू का इश्यू 10 नवंबर को खुला था। कम से कम 76 शेयर्स के लिए अप्लाई करना था। कंपनी बाजार से 600 करोड़ रुपए जुटाने के लिए उतरी थी। यह कंपनी 2006 में बनी थी और एनालिटिक्स सेवाओं जैसे डाटा और एनालिटिक्स कंसल्टिंग, बिजनेस एनालिटिक्स आदि का काम करती है। कंपनी की मौजूदगी अमेरिका, यूरोप, एशिया और अन्य देशों में है। फॉर्च्यून 500 में से 30 कंपनियों के साथ काम करती है।

गो फैशन का भी भाव प्रीमियम पर

उधर, गो फैशन के इश्यू का ग्रे मार्केट में भाव प्रति शेयर प्रीमियम 550 से 560 रुपए पर चल रहा है। यह इश्यू सोमवार को बंद हुआ है। इसे 135 गुना का रिस्पांस मिला है। इसमें रिटेल निवेशकों ने अपने हिस्से का 50 गुना ज्यादा पैसा लगाया है। इसकी लिस्टिंग 30 नवंबर को स्टॉक एक्सचेंज पर होगी। शेयर्स का अलॉटमेंट 29 नवंबर को होगा। यह बाजार से 1,013 करोड़ रुपए जुटाने के लिए उतरी थी और इश्यू में भाव 655 से 690 रुपए तय किया गया था।

टार्जन का इश्यू 77 गुना भरा

इसी तरह टार्जन प्रोडक्ट का इश्यू 77 गुना भरा था। इसमें रिटेल का हिस्सा 10.56 गुना भरा था। 17 नवंबर को बंद हुए इस कंपनी के शेयर्स की लिस्टिंग 26 नवंबर को होगी जबकि शेयर्स का अलॉटमेंट 25 नवंबर को होगा। इसने 635 से 662 रुपए के भाव पर IPO लाया था। कंपनी 1,023 करोड़ रुपए बाजार से जुटाने के लिए उतरी थी।

पहली बार 2 कंपनियों को 300 गुना से ज्यादा रिस्पांस

यह पहली बार है जब दो कंपनियों के इश्यू को 300 गुना से ज्यादा रिस्पांस मिला है। पारस डिफेंस ने सबसे पहले 300 गुना का आंकड़ा पार किया था। इससे पहले 5 कंपनियों को 200 गुना से ज्यादा सब्सक्रिप्शन मिला था। इसमें सालासर टेक को 2017 में 273 गुना जबकि एस्ट्रॉन पेपर को 2017 में ही 241 गुना का रिस्पांस मिला था। 2018 में अपोलो माइक्रो को 248 गुना का रिस्पांस मिला था। 2021 में एमटीएआर को 200 गुना, मिसेज बैक्टर्स को 198 गुना का सब्सक्रिप्शन मिला था।

खबरें और भी हैं…