Vegetable prices hiked: सब्जियों की कीमतों में लगी आग! टमाटर 100 के पार

नई दिल्ली: पेट्रोल-डीजल की बाद, अब सब्जियों की बढ़ती महंगाई ने आम जनता की जेब ढीली कर रखी है. सर्दियों का मौसम शुरू हो गया है और इस समय सब्जियों की कीमत ने किचन का बजट बिगाड़ रखा है. तेल और दाल के भाव आसमान छूने के साथ अब सब्जी के दामों में भी बढ़ोतरी ने आम आदमी की परेशानी बढ़ा दी है.

सेब से महंगी बिक रही सब्जियां!

कई सब्जियां इस समय सेब से भी मंहगी बिक रही हैं. यहां तक की सर्दियों में सस्ता बिकने वाला मटर और टमाटर की कीमत भी चरम पर है. इस मौसम में 20/25 रुपये किलो बिकने वाला टमाटर आज 100 रुपये किलो तक पहुंच गया है. वहीं मटर कई जगह पर 100, 150 और 200 रुपये किलो तक बिक रहा है.

ये भी पढ़ें-  केंद्रीय कर्मचारियों को फिर मिलेगी खुशखबरी! एक और भत्ते पर मंथन कर रही सरकार, जानिए नया अपडेट

ग्राहक-विक्रेता दोनों बेहाल 

सब्जियों के बढ़ते दाम से ग्राहक तो परेशान हैं ही सब्जी विक्रेताओं की हालत भी खस्ती हो रखी है. दरअसल, सब्जियों की कीमत में बढ़ोतरी के बाद, बिक्री में भी कमी आई है. आइए जानते हैं राजधानी दिल्ली में क्या हैं सब्जियों के भाव- 

सब्जी        कीमत/किलो 
मटर      :     100 रुपये 
टमाटर   :       80 रुपये 
आलू      :       30 रुपये 
भिंडी     :       80 रुपये 
प्याज     :       40 रुपये 
नींबू       :       60 रुपये 
पालक   :       40 रुपये

ये भी पढ़ें- Rakesh Jhunjhunwala का फेवरेट शेयर! 1 महीने में कराएगा छप्पर फाड़ कमाई, जानें निवेश का तरीका

क्यों महंगी हो रही सब्जियां?

सब्जियों के महंगी होने के पीछे कई वजह हैं. दक्षिण भारत में भारी वर्षा के कारण फसल खराब होने से टमाटर की कीमतों में बंपर उछाल आया है. दरअसल, आंध्र प्रदेश और कर्नाटक में बाढ़ के कारण टमाटर की फसल खराब होने से टमाटर के दाम आसमान पर पहुंच गए हैं कम पैदावार और ज्यादा मांग के साथ-साथ ट्रांसपोर्टेशन लागत में बढ़ोतरी से भी टमाटर में उछाल आया है.

मांग से कम हो रही पैदावार!

फ्यूल की महंगाई के चलते छोटे स्तर पर सब्जियों की ढुलाई नहीं हो रही है. तीसरी बड़ी वजह है- शादी का मौसम. त्योहारी सीजन के बाद, शादी का मौसम शुरू हो गया है. ऐसे में, सब्जियों की डिमांड भी तेजी से बढ़ रही है. शादियों के मौसम में मांग बढ़ने के चलते भी सब्जियों का भाव कम नहीं हो रहा है. आवश्यक वस्तु की आपूर्ति में भारी कमी के कारण इनकी कीमत नई ऊंचाई पर पहुंच गई है. 

बिजनेस से जुड़ी अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें