7th Pay Commission: DA के बाद मिलने लगा बढ़ा हुआ HRA, केंद्रीय कर्मचारियों की सैलरी 15120 रुपए बढ़ी

नई दिल्ली: 7th Pay Commission: केंद्रीय कर्मचारियों को बढ़ा हुआ महंगाई भत्ता 28 परसेंट की दर से मिलने लगा है. उनके सैलरी बढ़कर आने लगी है. इसके साथ ही कर्मचारियों को दूसरे भत्तों में भी इजाफा मिलने लगा है.

महंगाई भत्ते के बाद केंद्रीय कर्मचारियों को हाउस रेंट अलाउंस (HRA) का इंतजार था, अब इसका भुगतान भी शुरू हो चुका है. महंगाई भत्ते के 25 परसेंट ज्यादा होने पर HRA अपने आप ही रिवाइज हो गया है. सरकार ने जुलाई में महंगाई भत्ता (Dearness Allowance) बढ़ाया था. इसके बाद हाउस रेंट अलाउंस (House Rent Allowance) में इजाफा हुआ है.

3 परसेंट बढ़कर मिल रहा है HRA

केंद्रीय कर्मचारियों के लिए हाउस रेंट अलाउंस (HRA) को DA पे मैट्रिक्स के आधार पर ही रिवाइज किया गया है. सरकार ने अब बढ़े हुए HRA में दूसरे केंद्रीय कर्मचारियों को भी शामिल करना शुरू कर दिया है. सभी कर्मचारियों को बढ़े हुए HRA का फायदा मिलने लगा है. इसलिए अब शहर की कैटेगरी के हिसाब से 27 परसेंट, 18 परसेंट और 9 परसेंट HRA दिया जा रहा है. यह बढ़ोतरी भी DA के साथ 1 जुलाई 2021 से लागू हो गई है.

ये भी पढ़ें- Ration Card में अपडेट करें अपना मोबाइल नंबर, हमेशा मिलेगा राशन; ये रही आसान प्रक्रिया

हाउस रेंट अलाउंस (HRA) की कैटेगरी X, Y और Z क्लास शहरों के हिसाब से है. मतलब जो केंद्रीय कर्मचारी X कैटेगरी में आते हैं उन्हें अब 5400 रुपए महीने से ज्‍यादा HRA मिलेगा. इसके बाद Y Class वाले को 3600 रुपए महीना और फिर Z Class वाले को 1800 रुपए महीना.

कैसे कैलकुलेट होता है HRA?

7th Pay Matrix के हिसाब से केंद्रीय कर्मचारियों की अधिकतम बेसिक सैलरी 56000 रुपए महीना है तो उसका HRA 27 फीसदी के हिसाब से कितना बनेगा, यह साधारण कैलकुलेशन से समझा जा सकता है.

HRA = 56000 रुपए का 27 परसेंट= 15120 रुपए महीना

पहले HRA = 56000 रुपए का 24 परसेंट= 13440 रुपए महीना

कितना बढ़ गया HRA = 1680 रुपये महीना

पहले कितना मिलता था HRA

7th Pay Commission जब लागू हुआ तब HRA को 30, 20 और 10 परसेंट के दायरे से घटाकर 24, 18 और 9 परसेंट कर दिया गया था. साथ ही इसकी 3 कैटेगरी बनाई थी X, Y और Z. उस दौरान DA को जीरो कर दिया गया था. उस वक्त ही DoPT के नोटिफिकेशन में इस बात का जिक्र था कि जब DA 25 फीसदी के मार्क को क्रॉस कर जाएगा तो HRA भी खुद रिवाइज हो जाएगा.

X,Y और Z कैटेगरी क्‍या है?

X कैटेगरी में 50 लाख से ज्यादा आबादी वाले शहर आते हैं. इन शहरों में जो केंद्रीय कर्मचारी तैनात हैं उन्‍हें 27 फीसदी HRA मिलेगा. वहीं, Y कैटेगरी के शहरों में 18 फीसदी होगा और Z कैटेगरी में 9 फीसदी होगा.

ये भी पढ़ें- High Return Stocks: इस शेयर ने निवेशकों पर की पैसों की बारिश! 1 लाख को बना दिया 8.7 करोड़, जानिए कंपनी

LIVE TV